Top

शहीद डिप्टी कमांडेट का पार्थिव शरीर पहुंचा मुजफ्फरनगर, शोक में डूबा गांव

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में शहीद हुए मुजफ्फरनगर निवासी सीआरपीएफ अधिकारी विकास सिंघल का पार्थिव शरीर छत्तीसगढ़ से आज उनके पैतृक घर लाया गया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 15 Dec 2020 1:19 PM GMT

शहीद डिप्टी कमांडेट का पार्थिव शरीर पहुंचा मुजफ्फरनगर, शोक में डूबा गांव
X
शहीद डिप्टी कमांडेट का पार्थिव शरीर पहुंचा मुजफ्फरनगर, शोक में डूबा गांव
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुजफ्फरनगर: छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले में शहीद हुए मुजफ्फरनगर निवासी सीआरपीएफ अधिकारी विकास सिंघल का पार्थिव शरीर छत्तीसगढ़ से आज उनके पैतृक घर लाया गया। उनका पार्थिव शरीर हेलीकॉप्टर द्वारा दिल्ली पहुंचने के बाद सड़क के रास्ते मुज़फ्फरनगर स्थित शहीद के पैतृक घर नई मंडी थाना क्षेत्र के गांव पचेंडा में मंगलवार को लाया गया।

ये भी पढ़ें: सिपाही भर्ती: नकल कराने वाले गिरोह का भंडाफोड़, STF ने 5 लोगों को किया गिरफ्तार

गांववालों ने इस तरह दी विदाई

शहीद का पार्थिव शरीर उनके गाँव में पहुंचने के बाद पूरे क्षेत्र में विकास सिंघल अमर रहे और जब तक सूरज चांद रहेगा विकास तेरा नाम रहेगा के नारे चारों और सुनाई देने लगे। जनपद के इस लाल को अंतिम विदाई देने के लिए ग्रामीणों की भीड़ और जनप्रतिनिधि के अलावा जिला प्रशासन के आलाधिकारी भी मौके पर मौजूद रहे, जिसके बाद पुरे राजकीय सम्मान के साथ शहीद को अंतिम विदाई दी गई।

जवान की शहादत पर श्रद्धांजलि देने वालों में गन्ना मंत्री सुरेश राणा उत्तर प्रदेश सरकार में कौशल विकास मंत्री कपिल देव अग्रवाल, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक के साथ जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने नम आंखों से शहीद को श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

आपको बता दें कि शहीद विकास सिंघल डिप्टी कमांडेंट कोबरा बटालियन में 2010 में सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे जिसके बाद से उनकी ड्यूटी नक्सली ईलाके छत्तीसगढ़ में लगी हुई थी, जोकि रविवार की रात्रि में सुकमा इलाके में नक्सली द्वारा बिछाई गई लाइन माइंड से शहीद हो गए थे।

परिवार को 50 लाख रूपये की आर्थिक मदद और नौकरी का ऐलान

उत्तर प्रदेश सरकार से गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने मिडिया से बात करते हुए कहा कि सूबे के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद के परिवार को 50 लाख रूपये की आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी के साथ साथ शहीद के गाँव की एक सड़क का नाम शहीद विकास सिंघल के नाम पर रखे जाने की घोषणा कर शोक प्रकट किया है।

ये भी पढ़ें: CM योगी का निर्देश, DM और CMO सुबह शाम जाएं अस्पताल

रिपोर्ट: अमित कलियान

Newstrack

Newstrack

Next Story