माँ-बेटे की हैवानियत: सिर्फ इतनी सी बात पर पिता को दी ऐसी मौत, दहशत में आए लोग

सीओ डलमऊ ने मीडिया को बताया कि कोतवाली ऊंचाहार के पूरे पलऊ मजरे चड़रई गांव निवासी मृतक पंचमलाल (58) पत्नी बिदादेई और छोटे बेटे धीरेंद्र के साथ रहता था।

Published by Rahul Joy Published: July 8, 2020 | 5:07 pm

रायबरेली: ऊंचाहार पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही पंचमलाल हत्याकांड से पर्दा उठा दिया है। बुजुर्ग पंचमलाल की हत्या किसी बाहरी ने नही बल्कि जन्म भर का साथ निभाने वाली पत्नी और पुत्र ने योजनाबद्ध तरीके से किया था। फिलहाल अब पुलिस ने मां-बेटे को गिरफ्तार करके जेल भेजा है।

सबसे खूंखार बदमाश: जिसका चलता था दुनिया में सिक्का, जानें इनके बारे में

चारपाई पर मिली लाश

सीओ डलमऊ ने मीडिया को बताया कि कोतवाली ऊंचाहार के पूरे पलऊ मजरे चड़रई गांव निवासी मृतक पंचमलाल (58) पत्नी बिदादेई और छोटे बेटे धीरेंद्र के साथ रहता था। बड़ा बेटा कल्लू परिवार के साथ गांव में ही अलग रहता है। इस वक्त छोटी बेटी भी मायके आई हुई है। उन्होंने बताया कि 6-7 जुलाई की रात मृतक पंचम घर के बाहर बरामदे में चारपाई पर सो रहा था और अन्य परिवारीजन घर के अंदर थे। सुबह जब लोगों की नींद टूटी तो चारपाई पर पंचम की लाश मिली। उसके गले पर निशान मिले थे जो साफ कह रहे थे किसी ने गला घोंटकर मौत के घाट उतारा है।

चीन का दावा: अमेरिका बड़े-बड़े देशों को उकसा रहा, भुगतना होगा खामियाजा

हत्याकांड का राज फाश हो गया

सीओ ने बताया कि पुलिस को परिजन पर शक था, इस मामले में जब मृतक की पत्नी और पुत्र से पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ किया तो हत्याकांड का राज फाश हो गया। सीओ के अनुसार मृतक के बेटे ने पुलिस को बताया कि बीते दिनो पिता ने पुश्तैनी जमीन कम दामों पर बेंच दिया था। मिले पैसों को बैंक में रखकर मांस और शराब का सेवन कर पैसों को बर्बाद कर रहा था। इसके अतिरिक्त घर के पीछे की जमीन का सौदा भी पिता ने कर दिया था। इसी से नाराज मैने और मां ने मुंह और गला दबाकर उनकी हत्या कर दी।

रिपोर्टर- नरेन्द्र सिंह, रायबरेली

भारत-चीन संघर्ष और चंद्रशेखर, यहां पढ़ें आने वाली पुस्तक के कुछ अंश

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App