Top

अफजाल का बंगला: गिराने के लिए एलडीए का दस्ता तैयार, वीसी के आदेश का इंतजार

एलडीए वीसी के कोरोना के चलते होम क्वारेंटाईन होने के कारण अभी यह तय नहीं है कि मकान ढहाने की कार्रवाई आज होगी की नहीं, एलडीए अधिकारियों का कहना है कि मामला हाई प्रोफाइल है इसलिए इस पर एलडीए वीसी ही निर्णय लेंगे।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 28 Sep 2020 7:30 AM GMT

अफजाल का बंगला: गिराने के लिए एलडीए का दस्ता तैयार, वीसी के आदेश का इंतजार
X
अफजाल का बंगला: गिराने के लिए एलडीए का दस्ता तैयार, वीसी के आदेश का इंतजार
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ। यूपी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बड़े भाई अफजाल के राजधानी लखनऊ के डालीबाग कालोनी स्थित जमीन पर 07 हजार वर्ग मीटर क्षेत्रफल में बने मकान को गिराने से बचाने के लिए अपना पक्ष रखने के लिए लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा दी गई 07 दिन की मोहलत आज सोमवार को खत्म हो गई है। अब इस मामलें में एलडीए मकान ढहाने की कार्रवाई कर सकता है।

मामला हाई प्रोफाइल है

हालांकि एलडीए वीसी के कोरोना के चलते होम क्वारेंटाईन होने के कारण अभी यह तय नहीं है कि मकान ढहाने की कार्रवाई आज होगी की नहीं, एलडीए अधिकारियों का कहना है कि मामला हाई प्रोफाइल है इसलिए इस पर एलडीए वीसी ही निर्णय लेंगे। इधर, सूत्रों का कहना है कि अफजाल अंसारी के उक्त मकान का नक्शा निरस्त कर दिया गया है और एलडीए किसी भी समय सरकारी जमीन पर बने इस मकान को ढहा सकता है।

ये भी देखें: मिलेगी फास्ट कनेक्टिविटी: Vodafone Idea का धमाकेदार प्लान, ऐसा है Vi GIGAnet

अफजाल अंसारी की पत्नी को एलडीए ने जारी किया था नोटिस

इस मामलें में बीती पहली सितंबर को एलडीए ने अफजाल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी को नगर विकास नगर योजना एवं विकास अधिनियम 1973 की धारा 15 के तहत नोटिस जारी किया था। इस नोटिस के तहत किसी भी जारी मानचित्र को निरस्त किया जा सकता है। नोटिस के मुताबिक अफजाल की पत्नी फरहत अंसारी को 14 दिन के अंदर एलडीए के वीसी को मानचित्र निरस्त न करने के लिए उचित कारण पेश करना था। जवाब देना था कि ये नक्शा क्यों न निरस्त कर दिया जाए।

शत्रु संपत्ति होने की जानकारी उनको नहीं थी

नोटिस की अवधि पूरी होने के दिन बीती 14 सितम्बर को अफजाल अंसारी अपनी पत्नी फरहत अंसारी के साथ एलडीए पहुंचे और एलडीए वीसी शिवाकांत द्विवेदी से मुलाकात कर अपने मकान के संबंध में अपना पक्ष पेश किया। अफजाल ने बताया कि उनका मकान नियमानुसार बना है। उन्होंने बताया कि शमन मानचित्र भी पास करवाया था। शत्रु संपत्ति होने की जानकारी उनको नहीं थी।

ये भी देखें: इमरान को झटका: अपना ही देश हुआ खिलाफ, गिलगित-बाल्टिस्तान चुनाव पर बवाल

अफजाल अंसारी ने एलडीए के अधिकारियों के सामने विभिन्न सरकारी विभागों से नक्शा पास करने के लिए दिए गये अनापत्ति प्रमाण पत्र की प्रतियां भी पेश की। इस दौरान उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि जब पूर्व में उनके मकान का नक्शा पास किया गया था तो वह आपत्ति वाले गाटा संख्या 93 से बाहर था लेकिन अब उसे उसी गाटे में दिखाया जा रहा है।

मकान का नक्शा एलडीए ने 2007 में पास हुआ था

बता दें कि अफजाल अंसारी व फरहत अंसारी का मकान जियामऊ के गाटा संख्या 93 में बना है। इसी गाटे में मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों अब्बास अंसारी व उमर अंसारी के मकान भी बने थे। जिसे एलडीए गिरा चुका है। अफजाल की पत्नी फरहत अंसारी के मकान का नक्शा एलडीए ने 2007 में पास किया था। तब फरहत अंसारी ने इस जमीन को अपनी बताया था।

ये भी देखें: कृषि बिल ने डाला आग में घी, अकाली दल की नाराजगी के और भी कारण

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story