पीर खुशहाल के किले पर चला योगी सरकार का बुलडोजर, ध्वस्त हुआ अवैध निर्माण

वन विभाग की जमीन को सन 1964 में लीज पर लेकर उस पर अवैध रूप से कब्जा कर 100 बीघा जमीन पर एक किले नुमा इमारत का निर्माण कर लिया था। जिसमें 40 से ज्यादा कमरे और कारागार की तरह बैरक बनाई हुई थी

pir khushhal fort

पीर खुशहाल के किले पर चला योगी सरकार का बुलडोजर, ध्वस्त हुआ अवैध निर्माण

मुजफ्फरनगर: जिला प्रशासन ने आज वर्षों से वन विभाग की जमीन पर कब्ज़ा कर रह रहे खुशहाल पीर के परिवार पर संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर 24 घंटे के अंदर वन विभाग की जमीन को खाली करने का अल्टीमेटम दे दिया है।

100 बीघा जमीन पर किले नुमा इमारत का निर्माण

गौरतलब है, कि पाकिस्तान से आए खुशहाल पीर नामक के एक शख्स ने भोपा थाना क्षेत्र के खाद्दर में वन विभाग की जमीन को सन 1964 में लीज पर लेकर उस पर अवैध रूप से कब्जा कर 100 बीघा जमीन पर एक किले नुमा इमारत का निर्माण कर लिया था। जिसमें 40 से ज्यादा कमरे और कारागार की तरह बैरक बनाई हुई थी इसके किले मैं एक इबादत गाह भी बनाई गई थी। लीज समाप्त होने पर कोर्ट द्वारा कई बार नोटिस जारी करने के बाद भी ख़ाली नही करने के बाद आज जिला प्रशासन द्वारा पीर खुशाल के परिवार पर मुकदमा दर्ज करते हुए 24 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया गया है।

ये भी पढ़ें: भतीजे ने सिर्फ इसलिए गोली मारकर कर दी चाचा की हत्या, इलाके में फैली सनसनी

भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ आलाधिकारियों की टीम तैनात

आपको बता दें की जिला प्रशासन ने पीर खुशहाल के परिवार को कल तक पूरी जगह खाली करने का अल्टीमेटम जरूर दिया है, लेकिन जिला प्रशासन का बुल्डोज़ल इस अवैध निर्माण को पिछले एक हफ्ते से भी ज्यादा दिनों से ध्वस्त करने में लगा हुआ है। जिसके चलते भारी पुलिस फ़ोर्स के साथ आलाधिकारियों की टीम इस किले को घेरे हुए हैं।

दरअसल मुजफ्फरनगर जिला प्रशासन ने आज सुबह वन विभाग की सो बीघा जमीन पर वर्षो से कब्जा कर रह रहे खुशहाल पीर के परिवार पर मुकदमा दर्ज करते हुए 24 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया है। और कहा है, कि आवास खाली करने का आज उनके पास आखिरी दिन है, इसके बाद प्रशासन का पूरी तरह इस जगह पर कब्जा हो जाएगा। प्रशासन की सख्ती को देखते हुए अब तक आवास के सात कमरों की चाबी वन विभाग को सौंप दी गई है, बाकि बचे पांच कमरों को भी तेजी के साथ खाली किया जा रहा है। बताया जा रहा है की खुशहाल का परिवार सामान समेटकर बरेली की ओर कूच कर रहा है।

ये भी पढ़ें: LDA में बड़ी छापामार कार्रवाई: गेट बंद कर हुई जांच, हिरासत में सात कर्मचारी

40 कमरे हुए ध्वस्त

वन विभाग की जमीन को 30 साल की लीज पूरी होने के बाद भी जमीन खाली नहीं करने पर प्रशासन की सख्ती का असर दिखाई देने लगा है। प्रशासन ने यहां अभियान चलाकर पीर खुशहाल द्वारा मेहमान नवाजी के लिए बनाए गए 40 कमरों को ध्वस्त कर दिया है। खुशहाल के आवास को ध्वस्त करने से पहले ही परिवार ने आवास खाली करना शुरू कर दिया है। दो दिन में घर का मुख्य सामान पूरी तरह समेट लिया गया है। सात कमरों की चाबी वन विभाग को सौंप दी गई है। केवल पांच कमरे बचे है, जिनमें कुछ सामान बाकी है। इन कमरों को भी तेजी से खाली किया जा रहा है।

रिपोर्ट: अमित कलियान 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App