प्याज-लहसुन वाली शादी: जानेंगे पूरी स्टोरी तो कहेंगे गजब

बनारस में प्याज को लेकर विरोध का ये सिलसिला नया नहीं है। यहां के कुछ रेस्टोरेंट मालिकों ने बकायदा नोटिस बोर्ड लगा रखा है की प्याज की जगह मूली परोसी जाएगी। गौरतलब है कि वाराणसी की सब्जी मंडी में प्याज जहां 120-130 रुपये प्रति किलो बिक रहा है, वहीं खुदरा बाजार में प्याज की कीमतें 140 रुपये प्रति किलो है।

वाराणसी: प्याज की बढ़ती कीमतों से हाहाकार मचा हुआ है। विपक्ष ने इसे बड़ा मुद्दा बना लिया है। कभी सड़क पर उतरकर तो कभी अनूठे तरीके से प्याज की बढ़ी कीमतों का विरोध किया जा रहा है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के साकेत नगर इलाके के लोग एक ऐसी शादी के गवाह बने जहां वर वधू ने एक दूसरे के गले में प्याज लहसून की माला डाली।

ये भी पढ़ें—इस मुस्लिम नेता ने क्यों कहा- भाजपा का हो डीएनए टेस्ट

गिफ्ट में दिए प्याज-लहसून

इस अनोखी शादी में वर वधू को कुछ खास तरह के गिफ्ट भी दिए गए। शादी में शरीक होने वाले लोगों ने कपल को गिफ्ट के तौर प्याज और लहसून दिया। प्याज की कीमतों का विरोध करने वाले लोगों के मुताबिक केंद्र और राज्य सरकार को आइना दिखाने के लिए, इस तरह के गिफ्ट दिए गए हैं। समाजवादी युवजन सभा के वाराणसी विंग से जुड़े सत्य प्रकाश कहते हैं कि केंद्र सरकार का प्याज की कीमतों पर नियंत्रण नहीं रह गया है। महंगाई से जनता कराह रही है। ऐसे में हमने एक गरीब परिवार से जुड़ी इस शादी में मदद के लिए प्याज और लहसुन गिफ्ट के तौर पर दिया है।

ये भी पढ़ें—सुशासन की ठोस नींव कानून के राज पर हीः योगी आदित्यनाथ

रेस्टोरेंट मालिकों ने भी किया विरोध

बनारस में प्याज को लेकर विरोध का ये सिलसिला नया नहीं है। यहां के कुछ रेस्टोरेंट मालिकों ने बकायदा नोटिस बोर्ड लगा रखा है की प्याज की जगह मूली परोसी जाएगी। गौरतलब है कि वाराणसी की सब्जी मंडी में प्याज जहां 120-130 रुपये प्रति किलो बिक रहा है, वहीं खुदरा बाजार में प्याज की कीमतें 140 रुपये प्रति किलो है।