×

गर्भवती महिला की उपचार के दौरान मौत, परिजनों ने लगाया चिकित्सकों पर आरोप

सदर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत शुक्रवार की देर शाम भरथना निवासी एक महिला की डॉक्टरों द्वारा किए गए गलत उपचार के दौरान मौत हो गई। परिजनों ने आरोप लगाया...

Ashiki
Updated on: 25 April 2020 6:08 AM GMT
गर्भवती महिला की उपचार के दौरान मौत, परिजनों ने लगाया चिकित्सकों पर आरोप
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

औरैया: सदर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत शुक्रवार की देर शाम भरथना निवासी एक महिला की डॉक्टरों द्वारा किए गए गलत उपचार के दौरान मौत हो गई। परिजनों ने आरोप लगाया कि महिला के खून की कमी थी मगर डॉक्टरों ने उसी हालत में उसका उपचार कर दिया। बताया कि उसे खून चढ़ाया जाना था मगर डॉक्टरों ने उसे खून न चढ़ा कर सीधे ऑपरेशन कर दिया। जिससे उसकी हालत बिगड़ गई।

ये भी पढ़ें: फाइनल हुई JIO-FACEBOOK डील, ‘प्रोजेक्ट रेडवुड’ के साक्षी बने आकाश औऱ ईशा

जनपद इटावा थाना भरथना के ग्राम गिरधारीपुरा निवासी श्वेता तिवारी पत्नी गौरव तिवारी गर्भवती थी और वह उपचार कराए जाने के लिए अपनी ननद के यहां आई हुई थी। उनका उपचार शहर के मंडी समिति के समीप स्थित एक अस्पताल में किया जाना था। शुक्रवार की सुबह श्वेता तिवारी को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां पर डॉक्टरों द्वारा बताया गया कि महिला के खून की कमी है और उसे खून चढ़ाया जाना है। इस पर परिजनों द्वारा खून चढ़ाए जाने की बात स्वीकार कर ली। मगर डॉक्टरों ने बिना खून चढ़ाए महिला का ऑपरेशन कर दिया।

ऑपरेशन के दौरान श्वेता तिवारी ने एक बच्ची को जन्म दिया। बच्ची को जन्म देने के बाद अचानक उसकी हालत बिगड़ गई। इस पर डॉक्टरों ने उसे आनन-फानन में इटावा रेफर कर दिया। अजीतमल के निकट पहुंचते ही महिला ने दम तोड़ दिया। इस पर परिजन वापस उसे नर्सिंग होम ले आए और उन्होंने वहां पर उपद्रव करना शुरू कर दिया। घटना की सूचना पाकर कोतवाली पुलिस व सीओ सिटी सुरेंद्रनाथ मौके पर पहुंच गए।

ये भी पढ़ें: अमेठी में युवक ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, बिहार के आरा रहता है पूरा परिवार

बताया जाता है कि श्वेता तिवारी अपनी ननद आरती दुबे पत्नी अनिल दुबे के यहां पर आई हुई थी। श्वेता तिवारी के इससे पूर्व एक 7 वर्षीय एवं दूसरी 4 वर्ष की बेटी है। मौत की खबर पाकर मृतका के परिजन भी घटनास्थल पर पहुंच गए थे। इस संबंध में सीओ सिटी सुरेंद्र नाथ ने जानकारी देते हुए बताया कि मृतका के पति द्वारा मामले की तहरीर दी गई है। जिसमें अस्पताल संचालक सहित तीन लोगों को नामजद करते हुए 6 पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। वहीं सीएमओ अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि अस्पताल को सील कर दिया गया है और अन्य अभिलेखों की जांच की जा रही है।

रिपोर्ट: प्रवेश चतुर्वेदी

ये भी पढ़ें:लॉकडाउन में इस बैंक ने ग्राहकों के लिए किया बड़ा एलान, अब मिलेगी ये सुविधा

Ashiki

Ashiki

Next Story