प्रियंका गांधी का वारः बोली- उर्दू शिक्षकों की नौकरी में रोडा अटका रही योगी सरकार

कांग्रेस की उत्‍तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा और योगी सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्‍होंने योगी सरकार को अल्‍पसंख्‍यक विरोधी बताया।

priyanka gandhi accused yogi govt o of dithering giving Jobs to Urdu teachers

लखनऊ। कांग्रेस की उत्‍तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा और योगी सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्‍होंने योगी सरकार पर अल्‍पसंख्‍यक विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि योगी सरकार जानबूझकर उर्दू शिक्षकों की भर्ती में अडंगा लगा रही है।

प्रियंका का CM योगी पर अब तक का सबसे बडा हमला

कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा इन दिनों प्रदेश के बेरोजगार युवाओं के साथ डिजिटल संवाद कर रही हैं। शनिवार को उन्‍होंने प्रदेश के उर्दू शिक्षक अभ्‍यर्थियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बातचीत की। इस संवाद के बाद उन्‍होंने योगी सरकार पर अब तक सबसे करारा हमला बोला।

उर्दू शिक्षकों की नौकरी पर कही ये बात

उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में चार हजार उर्दू शिक्षकों की भर्ती की जानी है। भर्ती प्रक्रिया में शामिल हुए अभ्‍यर्थियों से बात की तो पता चला है कि सभी योग्‍य अभयर्थी हैं। सरकार की ओर से बनाए गए मानकों को पूरा करते हैं। सभी अभ्‍यर्थी मेरिट में आते हैं और रोजगार पाने के लिए पूरी तरह योग्‍य हैं। मगर सरकार ने इनकी नौकरी की राह में रोडा अटका रखा है। उन्‍होंने कहा कि यूपी की भाजपा सरकार को नौकरी देने वाली भूमिका में आना चाहिए लेकिन सरकार ही नौकरियों में रोटा अटकाने का काम रही है।

ये भी पढ़ेंः UP में बंपर भर्तियां: लाखों अभ्यर्थियों को मिलेगी नौकरी, सीएम ने की घोषणा

किसानों के मामले में भी भाजपा पर निशाना

इससे पहले शनिवार की दोपहर में उन्‍होंने टवीट कर भाजपा और केंद्र सरकार को आडे हाथों लिया। केंद्र सरकार के कृषि विधेयकों को नकारते हुए उन्‍होंने का कि किसानों के लिए यह कठिन समय है। सरकार को एमएसपी व किसानों की फसल खरीद के सिस्‍टम में इस समय उनकी मदद करनी चाहिए थी लेकिन हो इसका उल्‍टा रहा है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार अपने अमीर खरबपति दोस्‍तों को कृषि क्षेत्र में प्रवेश दिलाने के लिए ज्‍यादा आतुर दिख रही हे इसलिए वह किसानों की बात तक नहीं सुनना चाहती है।

ये भी पढ़ेंः किसानों की तबाहीः मोदी का ये कानून, बेमौत मरेंगे करोड़ों

कृषि विधेयकों का खुला विरोध कर रही कांग्रेस

कांग्रेस ने संसद में भी मोदी सरकार के कृषि विधेयकों का खुला विरोध किया है। कांग्रेस का आरोप है कि कृषि मंडियों को अनुपयोगी बनाकर सरकार चाहती है कि किसान अपने आप खेती करना छोड दें और सारी खेती या तो बडी कंपनियों के हाथ में चली जाए अथवा किसान अपने खेत बेचकर मजूदर बन जाएं। गौरतलब है कि उत्‍तर प्रदेश कांग्रेस ने इससे पहले किसानों की बात कार्यक्रम के जरिये पार्टी को किसानों के करीब ले जाने का प्रयास किया था और अब केंद्र सरकार के विधेयक का विरोध कर वह एक बार और किसान हितैषी बनने की कवायद कर रही है।

अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App