हाथरस कांड: प्रियंका के 5 सवाल, घिरी योगी सरकार, सुप्रीम कोर्ट जज से जांच की मांग

कांग्रेस की उत्‍तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने हाथरस पीडिता के परिवार जनों से मुलाकात के बाद अपनी ओर से योगी सरकार के सामने पांच सवाल रखे हैं

लखनऊ। हाथरस पीडिता के परिवारजनों से मुलाकात के बाद कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पांच सवालों के जरिये योगी सरकार को घेरा है। उन्‍होंने कहा कि आखिर पूरे मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के न्‍यायाधीश से कराने में क्‍या अडचन है। उन्‍होंने पीडित परिवार के हवाले से बेटी की चिता से मिली अस्थियों की डीएनए जांच कराने की भी मांग की है।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने की हाथरस पीडिता के परिवार जनों से मुलाकात

कांग्रेस की उत्‍तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने हाथरस पीडिता के परिवार जनों से मुलाकात के बाद अपनी ओर से योगी सरकार के सामने पांच सवाल रखे हैं। उनका दावा है कि हाथरस के पीडित परिवार ने मुलाकात के दौरान जो बातें उन्‍हें बताई हैं और पीडित परिवार की जो इच्‍छा है, उसके अनुसार सुप्रीम कोर्ट के जरिये पूरे मामले की न्‍यायिक जांच कराई जानी चाहिए।

परिवार की दूसरी इच्‍छा है कि हाथरस के जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार को निलंबित किया जाए और किसी भी बडे पद पर तैनात न किया जाए।

ये भी पढ़ें –हाथरस कांड का असर: चुनावों पर पड़ेगा प्रभाव, कांग्रेस के लिए बना संजीवनी

पीडित परिवार का तीसरा सवाल है कि उनकी बेटी के शव को बगैर उन लोगों की इच्‍छा जाने पेट्रोल से क्‍यों जलाया गया। परिवार का यह भी आरोप है कि उन्‍हें बार – बार गुमराह किया जा रहा है और धमकाया जा रहा है। आखिर ऐसा क्‍यों हो रहा है।

Rahul-Priyanka meet Hathras Victim Family announce to give financial help

परिवार के लोगों ने प्रियंका और राहुल से कहा कि हम इंसानियत के नाते चिता से फूल चुनकर लाए हैं मगर हम कैसे मानें कि यह शव हमारी बेटी का है। इसलिए सरकार पहले अस्थियों की डीएनए जांच कराए।

ये भी पढ़ें –हाथरस पीड़िता की अस्थियां: 3 दिन बाद परिवार ने बटोरी, विसर्जन को लेकर रखी ये शर्त

प्रियंका ने अपने टवीट में कहा कि इन प्रश्‍नों के उत्‍तर पाना इस परिवार का हक है और उत्‍तर प्रदेश सरकार को ये जवाब देना पडेगा।

hathras case opportunity for Congress against yogi govt Rahul priyanka got benefits

कांग्रेस करेगी आंदोलन

हाथरस के पीडित परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए कांग्रेस अब इन सभी पांच मांगों को लेकर आंदोलन करने जा रही है। कांग्रेस का मानना है कि योगी सरकार के तमाम प्रतिरोध के बावजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिस तरह राहुल गांधी और प्रियंका की अगुवाई में लडाई लडी है उसने योगी सरकार को पीडित परिवार को मुक्‍त करने पर विवश कर दिया है।

ये भी पढ़ें –राहुल-प्रियंका की पीड़ित परिवार से मुलाक़ात, लिपट कर रोई मां, कुछ ऐसा रहा नजारा

पीडित परिवार पहली बार विपक्ष के किसी बडे नेता से मिल पाया है। पहली बार उसकी बात लोगों को पता चल पाई है अब तक लोग केवल उतना ही जानते थे जितना सरकार की ओर से बताया जाता रहा है। कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने रविवार को कहा कि पीडित परिवार के सभी सवालों का योगी सरकार को जवाब देना होगा और उनके साथ इंसाफ करना ही होगा। कांग्रेसी कार्यकर्ता इंसाफ की इस लडाई में डरने वाले नहीं हैं।

अखिलेश तिवारी

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App