×

रायबरेली: जर्जर मकान गिरने से दो मासूम बच्चों की मौत, इलाके में पसरा मातम

शहर कोतवाली के अहियरायपुर में सोमवार को उस समय हड़कंप मच गया जब सौ साल पुराना एक जर्जर मकान गिर गया। मकान के पास खेल रहे तीन बच्चे इसके नीचे दब गए।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 5 Aug 2019 12:51 PM GMT

रायबरेली: जर्जर मकान गिरने से दो मासूम बच्चों की मौत, इलाके में पसरा मातम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

रायबरेली: शहर कोतवाली के अहियरायपुर में सोमवार को उस समय हड़कंप मच गया जब सौ साल पुराना एक जर्जर मकान गिर गया। मकान के पास खेल रहे तीन बच्चे इसके नीचे दब गए।

जब तक आस- पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचकर मलबा हटाते तब तक दो सगे भाईयों ने दम तोड़ दिया था। जबकि मृतक बच्चों की चचेरी बहन घायल हुई है।

उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद से इलाके में मातम पसरा हुआ है। पुराने और जर्जर लोग मकानों में रहने वाले लोग इस घटना के बाद से डरे हुए है।

ये भी पढ़ें...जम्मू-कश्मीर पर ये क्या बोल गई पाकिस्तानी ऐक्ट्रेस वीना मलिक?

ये है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक़ कोतवाली के अहियरायपुर गांव में सौ साल पुराने एक मकान की इमारत के गिरने का अंदेशा जताया जा रहा था।

स्थानीय लोगों की माने तो मकान मालिक से कई बार मरम्मत या फिर गिरवाने के लिए भी कहा गया। लेकिन मालिक मकान बात को सुनकर अनसुना कर देता था।

आखिर जिस बात का ख़तरा था, सोमवार को वो सच साबित हुई। उसी जर्जर मकान के सामने संदीप कुमार का मकान बना था। आज संदीप के बच्चे हर्षित कुमार (8), सुमित कुमार (6) और संदीप के बडे़ भाई की छोटी लड़की खेल रहे थे।

ये भी पढ़ें...जम्मू कश्मीर में 370 हटने से पाकिस्तानी मीडिया में मची खलबली, कही ये बात

तीनों बच्चे खेलते हुए उक्त मकान के पास पहुंच गए, जब तक लोगों की निगाह पड़ती और लोग बच्चों को वहां से हटाते तब तक जर्जर मकान की छत गिर पड़ी।

तीनों बच्चे इसके नीचे आ गए। आवाज सुनकर लोग मौके पर पहुंचे और मलबा हटाया। लेकिन तब तक एक बच्चे ने मौके पर दम तोड़ दिया था।

अन्य दो बच्चों को जख्मी हालत मे परिजन अस्पताल लेकर पहुंचे तो दूसरे बच्चे ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं संदीप के बडे़ भाई की बेटी का जिला अस्पताल मे इलाज चल रहा है। जिला अस्पताल के डाक्टर अशोक वर्मा ने बताया है कि शव को मर्च्युरी मे रखकर पुलिस को सूचना कर दी गई है।

ये भी पढ़ें...जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद बौखलाई महबूबा ने दिया ये बड़ा बयान

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story