राम मंदिर निर्माण का मुहूर्त निकलेगा आज! अयोध्या दौरे पर नृपेन्द्र मिश्रा

राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया तेज हो गयी है। इसी कड़ी में शनिवार को निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंन्द्र मिश्रा अयोध्या पहुंचे।

Published by Shivani Awasthi Published: February 29, 2020 | 12:16 pm
Modified: February 29, 2020 | 1:15 pm

अयोध्या: राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया तेज हो गयी है। इसी कड़ी में शनिवार को निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंन्द्र मिश्रा अयोध्या पहुंचे। इस दौरान एक ओर जहां उन्होंने रामलला के दर्शन कर जन्मभूमि  का जायजा लिया, वहीं अब ट्रस्ट के अन्य सदस्यों संग बैठक भी करेंगे। इस बैठक में मंदिर निर्माण के मुहूर्त पर चर्चा होने की भी संभावना है।

राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंन्द्र मिश्रा आज अयोध्या में :

राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंन्द्र मिश्रा आज अयोध्या के दौरे पर हैं। नृपेंन्द्र ने आज अयोध्या में रामलला का दर्शन किये ।इसके साथ ही रामजन्मभूमि परिसर का जायजा भी लिया। बता दें कि राम मंदिर ट्रस्ट बनने के बाद नृपेंन्द्र मिश्रा पहली बार अयोध्या दौरे हैं।

उनके साथ ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय और ट्रस्टी डीएम अनुज झा भी साथ मौजूद रहे। बताया जा रहा है कि ट्रस्ट के अन्य सदस्य भी पहले ही अयोध्या पहुंच चुके हैं।

ये भी पढ़ें:  तगड़ा झटका: पेट्रोल के दामों में हो सकता है 20 से 30 रुपए का उछाल

ट्रस्ट के अन्य सदस्यों संग ख़ास बैठक :

जानकारी के मुताबिक, नृपेन्द्र मिश्रा अयोध्या में ट्रस्ट के अन्य सदस्यों के साथ बैठक करेंगे। इस बात की उम्मीद की जा रही है कि इस बैठक में मंदिर निर्माण के मुहूर्त पर चर्चा हो सकती है। वहीं रामलला को नए अस्थायी भवन में शिफ्ट करने की योजना को अंतिम रूप भी दिया जा सकता है। बताया जा रहा है कि ट्रस्ट के पदाधिकारियों के साथ बैठक में मिश्रा मंदिर निर्माण की कार्ययोजना पर चर्चा करेंगे।

ये भी पढ़ें:  दिल्ली जैसी हिंसा यहां भी: एक की मौत के बाद लगा कर्फ्यू, इंटरनेट सेवायें ठप्प

राम मंदिर के लिए मोदी सरकार ने दिया पहला चंदा, जल्द होगा निर्माण

कई अन्य बैठकें प्रस्तावित:

सूत्रों के मुताबिक, नृपेन्द्र मिश्रा अभी कई और बैठकों में शामिल होंगे। जानकारी मिल रही है कि वह 4 मार्च तक उत्तरप्रदेश में ही रहेंगे। इस दौरान 3 और 4 मार्च को राम मंदिर ट्रस्ट की बैठक में नृपेन्द्र मिश्रा राम मंदिर निर्माण की रुपरेखा ट्रस्ट के सामने रखेंगे, जिस पर ट्रस्ट अंतिम फैसला लेगा। बता दें कि इसके पहले वह 28 फरवरी को लखनऊ में एक बैठक में शामिल हुए थे। जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए थे।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।