सीएम योगी के गढ़ में आयेंगे RSS प्रमुख, कार्यकर्ताओं से लेंगे फीडबैक

अयोध्या में राममंदिर निर्माण का फैसला आने के बाद अब मंदिर निर्माण के लिए आगे का रास्ता तय करने के लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ एक बार फिर सक्रिय हो गया है।

लखनऊ: अयोध्या में राममंदिर निर्माण का फैसला आने के बाद अब मंदिर निर्माण के लिए आगे का रास्ता तय करने के लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ एक बार फिर सक्रिय हो गया है।

पार्टी प्रमुख मोहन भागवत गोरखपुर में इस कार्य को आगे बढ़ाने के लिए तथा मंदिर निर्माण को लेकर पदाधिकारियों से फीडबैक लेने का काम करेंगे।

गोरखपुर में पूर्वी क्षेत्र की बैठक में स्वयंसेवकों में जोश भरने के लिए सर संघचालक मोहन भागवत भी मौजूद रहेंगे। बैठक का आयोजन 23 से 27 जनवरी के बीच होगा।

बैठक के दौरान ही हाल ही में नागरिक संशोधन कानून को लेकर जिस तरह से राजनीतिक दलों ने कुछ लोगों को भ्रमित कर हिंसा फैलाने की साजिश की उससे निबटने के लिए संघ कुछ कार्ययोजनाएं भी बना सकता है।

बैठक का उदेश्य नागरिक संशोधन कानून राममंदिर और जेएनयू जैसे मुददो पर चर्चा होगी। इसके साथ ही प्रदेश में शुरू होने जा रही गंगा यात्रा तथा संघ की शाखाओं के विस्तार को लेकर भी मोहन भागवत अपना दिशा निर्देशन देगें।

ये भी पढ़ें…दंगाइयों को सीएम योगी की चेतावनी-‘नहीं सुधरेंगे तो वहीं जाएंगे जहां उन्हें जाना है’

संगठन की कार्ययोजना और कार्यान्वयन पर विचार-विमर्श

इस दौरान वह आरएसएस के प्रांतीय (गोरक्ष प्रांत, कानपुर प्रांत, अवध प्रांत और वाराणसी प्रांत) सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। इससे पहले ही संघ के प्रांत पदाधिकारियों ने नागरिकता संशोधन कानून पर जनसमर्थन जुटाने की मुहिम पर काम शुरू कर दिया है। कई जगहों पर कार्यशालाएं तथा पदयात्राओं का आयोजन किया जा रहा है।

सह कार्यवाह और उत्तर प्रदेश के प्रभारी दत्तात्रैय होसबोले की मौजूदगी भी महत्वपूर्ण होगी। इस वार्षिक बैठक में संगठन की कार्ययोजना और कार्यान्वयन पर विचार-विमर्श होगा।

बैठक में एक दिन आरएसएस के अनुषांगिक संगठनों जैसे विश्व हिंदू परिषद, विद्यार्थी परिषद, संस्कार भारती आदि को भी आमंत्रित किया जाएगा। यह संगठन अपने सांगठनिक उपलब्धियों और कार्ययोजना की जानकारी लेने के अलाव भविष्य की कार्ययोजना के बारे में भी बताएगें। आरएसएस और अनुषांगिक संगठनों में जोरशोर से तैयारी शुरू हो गई है।

ये भी पढ़ें…सीएम योगी ने अधिक उत्पादन करने वाले किसानों को किया सम्मानित