रेलवे स्टेशन से गायब बुजुर्ग महिला, परिजनों ने अपहरण की आशंका जताई

लखनऊ में सीआरपीएफ के डीआईजी आफिस में तैनात सहायक उपनिरीक्षक की मां यूपी के शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन से गायब हो गई। बीते 17 मार्च 2019 को सहायक उपनिरीक्षक अपने मां और पत्नी के साथ लखनऊ जा रहे थे। लेकिन अचानक उनकी मां स्टेशन से गायब हो गई।

शाहजहांपुर : लखनऊ में सीआरपीएफ के डीआईजी आफिस में तैनात सहायक उपनिरीक्षक की मां यूपी के शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन से गायब हो गई। बीते 17 मार्च 2019 को सहायक उपनिरीक्षक अपने मां और पत्नी के साथ लखनऊ जा रहे थे। लेकिन अचानक उनकी मां स्टेशन से गायब हो गई। उन्होंने तहरीर देकर अपहरण की आशंका जताई है। तहरीर के आधार पर जीआरपी में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी गई है।

ये भी देखें :एसडीएम ले रहे थे मीटिंग, महिला ने पेड़ से लटक लगा ली फांसी…और फिर

क्या है मामला

थाना बंडा निवासी संजय सिंह चौहान लखनऊ मे सीआरपीएफ डीआईजी आफिस मे सहायक उपनिरीक्षक के पद पर तैनात है। तहरीर मे बताया कि वह 17 मार्च को मां संध्या देवी पत्नी पम्मी सिंह और बेटी के साथ रेलवे स्टेशन आए थे। यहां से वह श्रमजीवी एक्सप्रेस से लखनऊ जा रहे थे।

तहरीर मे बताया कि जब सब लोग प्लेटफार्म नंबर एक पर बैठे थे। तब 20 से 25 साल के दो युवक मेरी मां के पास आकर बैठ गए। उसके बाद वह मेरी एक साल की बेटी के फोटों खींचने लगा। उसके बाद मेरी मां से बातचीत करना शुरू दी। 57 साल की बुजुर्ग महिला संध्या देवी सोने के आभूषण पहने थी। तभी जब ट्रेन आई तो वह और पत्नी बेटी को लेकर ट्रेन मे बैठने चल दिया। पीछे पीछे मां भी ट्रेन के करीब आ रही थी। लेकिन अचानक मां गायब हो गई। उसके बाद उनका कहीं कुछ पता नही चल सका। उनकी काफी तलाश कर चुके है। उसके बाद जीआरपी पुलिस को गुमशुदगी की तहरीर दी है।

ये भी देखें :यूपी में विकास जमीन पर नहीं दिख रहा, योगी का रिपोर्ट कार्ड खोखला: प्रियंका वाड्रा

परिवार ने आशंका जताई है कि सोने के आभूषण पहने मां का अपहरण किया गया है। उनकी जान को खतरा है। जल्द गुमशुदा महिला को बरामद करने की मांग की है।

वही जीआरपी इंस्पेक्टर अरविन्द कुमार पाण्डेय का कहना है कि बुजुर्ग महिला स्टेशन से गायब हो गई थी। जिसकी तहरीर मिल गई है। गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।