×

गोरखपुर में शिवपाल का एलान- अखिलेश की सपा में प्रसपा के विलय पर ये फैसला

शिवपाल ने कहा कि वर्ष 2022 में भाजपा की सरकार नहीं बनेगी। केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार पर जोरदार हमला करते हुए उन्हों ने कहा कि भाजपा के रामराज्य, अच्छे दिन व विकास के दावे की हकीकत को देख जनता कराह रही है।

Newstrack
Updated on: 18 March 2021 8:16 AM GMT
गोरखपुर में शिवपाल का एलान- अखिलेश की सपा में प्रसपा के विलय पर ये फैसला
X
गोरखपुर में शिवपाल का एलान- अखिलेश की सपा में प्रसपा के विलय पर ये फैसला (PC: social media)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

गोरखपुर: प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव पिछले दो दिनों से मुख्यमंत्री के गृहजनपद गोरखपुर में हैं। वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति जहां गरम दिख रहे हैं वहीं भतीजे अखिलेश यादव पर नरम। गुरुवार को मीडिया से मुखातिब शिवपाल ने 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर खुलकर बात की। उन्हें सपा में प्रसपा के विलय से इंकार करते हुए कहा कि सपा से गठबंधन हो सकता है। विलय का सवाल नहीं है।

ये भी पढ़ें:IND vs ENG-4th T20: विराट की सेना के सामने सीरीज बचाने की चुनौती, कोहली लेंगे ये फैसला

वर्ष 2022 में भाजपा की सरकार नहीं बनेगी

शिवपाल ने कहा कि वर्ष 2022 में भाजपा की सरकार नहीं बनेगी। केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार पर जोरदार हमला करते हुए उन्हों ने कहा कि भाजपा के रामराज्य, अच्छे दिन व विकास के दावे की हकीकत को देख जनता कराह रही है। अच्छे दिन वालों के सभी दावे खोखले साबित हुए है। सरकार की विफलता से देश व प्रदेश में महंगाई चरम पर हैं। जनता तबाह है। कोरोना संक्रमण को रोकने में भी सरकार विफल रही। उसकी गलत नीतियों से लाखों मजदूर सड़कों पर आ गए । लोगों की नौकरियां छीन गई।

विधानसभा में सपा से विलय के सवाल पर शिवपाल ने कहा

विधानसभा में सपा से विलय के सवाल पर शिवपाल ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए समान विचारधारा के दलों से गठबंधन के लिए चर्चा चल रही है। इसी में समाजवादी पार्टी भी शामिल है। प्रसपा का सपा में विलय नहीं होगा। दोनों दलों के बीच गठबंधन हो सकता है। इसके लिए सपा के नेताओं को प्रस्ताव भेजा जा चुका है। बंगाल चुनाव के सवाल पर उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव में भी भाजपा की आंतरिक कलह का असर दिख सकता है। वहां पर ममता बनर्जी ही सरकार बनाएंगी। वहां भाजपा को उधार के प्रत्याशियों से कोटा पूरा करना पड़ रहा है।

ये भी पढ़ें:स्टार्स हुए टल्लीः लिए कई राउंड टकीला शार्ट, फिर किया ये काम, वीडियो वायरल

मुख्यमंत्री की भाषा योगी वाली नहीं

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने प्रदेश सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ के ठोको नीति पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सीएम संत है लेकिन उनकी भाषा संत जैसी नहीं है। वह बोलते हैं ठोक दो। अपराधियों के घर गिरा रहे हैं। अपराधियों के परिजनों को इसकी सजा मिल रही है। अपराधियों के परिजनों का इसमें कोई दोष नहीं है। उन्होंने प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि सरकार की कार्यप्रणाली से सत्ताधारी दल के विधायक ही असंतुष्ट हैं। वह धरने पर भी बैठ चुके हैं ।आगामी चुनाव में इसका असर दिख सकता है।

रिपोर्ट-पूर्णिमा श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story