घूंघट उठाते ही मचा हड़कंप: लाया था दुल्हनिया और हो गया कांड

जब भी किसी के घर शादी विवाह या बच्चे का जन्म होता है या कोई त्योहार हो खास मौका किन्नर घर में मांगने के लिए आते हैं। किन्नर ऐसे मौके पर तक्काल आ जाते हैं।

लखनऊ: जब भी किसी के घर शादी विवाह या बच्चे का जन्म होता है या कोई त्योहार हो खास मौका किन्नर घर में मांगने के लिए आते हैं। किन्नर ऐसे मौके पर तक्काल आ जाते हैं। लेकिन अगर आपकी शादी एक किन्नर से हो जाए और ये बात आपको शादी के बाद पता चले तो आप क्या करेंगे। ऐसा मामला शिवपुरी जनपद का सामने आया है। जहां एक गांव में किन्नर के परिवारवालों ने उसकी शादी पड़ोस के ही गांव में एक युवक से कर दी।

ये भी पढ़ें:शाह-नीतीश को तगड़ा झटका: इतना बड़ा प्लान हुआ फेल, अब क्या करेंगे बिहार में…

उनकी बहू लड़की नहीं बल्कि किन्नर है

लड़के के घरवाले दुल्हन को गाजे बाजे के साथ शादी कर के घर ले आए, लेकिन शादी के बाद जब ये खुलासा हुआ कि उनकी बहू लड़की नहीं बल्कि किन्नर है तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। काफी लंबे समय तक पारिवारिक स्तर पर जब ये मामला नहीं सुल्जा तो पीड़ित पति ने किन्नर पत्नी से छुटकारा पाने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया पड़ा।

मिली जानकर के मुताबिक, 22 वर्षीय युवक की शादी 22 जून को पड़ोस के सगांव की एक युवती के साथ हुई थी। शादी को लेकर दोनों परिवारों में काफी उत्साह था, लड़के के परिवार वाले बहू को बरात गाने के साथ धूमधाम से शादी का घर लाए। घर में हंसी खुशी सारी रस्में निभाई गईं, लेकिन उसके बाद दूल्हे को इस बात का खुलासा हुआ कि जिससे उसकी शादी हुई है वो महिला नहीं बल्कि किन्नर है तो लोगों के पैरों तले जमीन खिसक गई।

ये भी पढ़ें:PM मोदी का बड़ा ऐलान, दिल्ली हार के बाद लिया ये फैसला

दुल्हन के परिजनों को बुलाया गया, परंतु लड़की के घरवाले ये मानने को तैयार ही नहीं हुए कि उनकी बेटी किन्नर है। बहुत महीनों तक मामला पारिवारिक व सामाजिक स्तर पर गुपचुप तरीके से सुलझाने का प्रयास हुआ, परंतु कोई बात नहीं बनी। पीड़ित ने न्यायालय में शिकायत दर्ज कराई है कि अनावेदिका किन्नर है, इसलिए वह उसे शारीरिक सुख व संतान सुख नहीं दे सकती, उसे अनावेदिका से तलाक दिलवाया जाए।