अमेठी में BJP के खिलाफ वोट करने वालों के लिए ईरानी ने कही दिल को छू लेने वाली ये बात

मोदी कैबिनेट में दुबारा मंत्री बनने और अमेठी से सांसद चुने जाने के बाद शनिवार को पहली बार स्मृति ईरानी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंची। जिले को तीस करोड़ सताइस लाख की सड़कों की सौगात देते हुए उन्होंने तिलोई के मंच से कहा कि अमेठी की जनता ने जाति धर्म की बेड़ियों को तोड़ते हुए मात्र क्षेत्र के विकास के लिए बार वोट दिया।

अमेठी: मोदी कैबिनेट में दुबारा मंत्री बनने और अमेठी से सांसद चुने जाने के बाद शनिवार को पहली बार स्मृति ईरानी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंची। जिले को तीस करोड़ सताइस लाख की सड़कों की सौगात देते हुए उन्होंने तिलोई के मंच से कहा कि अमेठी की जनता ने जाति धर्म की बेड़ियों को तोड़ते हुए मात्र क्षेत्र के विकास के लिए बार वोट दिया।

ये भी पढ़ें…स्मृति ईरानी की इस फोटो ने तो कमाल ही कर दिया

चार लाख लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने कांग्रेस के पक्ष में वोट दिया। मैं सवार्जनिक तौर पर कहना चाहती हूँ मैं निश्चित रुप से उनकी सेवा करूंगी जिन्होंने वोट दिया। उनको भी विकास से वंचित नहीं रखूंगी जिन्होंने वोट नहीं दिया।

स्मृति ईरानी ने आगे कहा कि किसी ने भी नहीं सोचा था कि एक साधारण परिवार की महिला को आपके प्रतिनिधि बनने का अवसर दिया जाएगा। एक ऐसे क्षेत्र में जो ‘नामदार’ का गढ़ था, जहां यह माना जाता था कि भले ही सांसद 5 साल तक नहीं लौटे, लोग उसे स्वीकार करेंगे।

उन्होंने ये भी कहा कि यहां एक सामाजिक क्रांति तब आई जब सभी लोग मतदान केंद्रों पर गए, ‘बटन’ को दबाया और संदेश दिया कि ‘नामदार’ के लिए लोकतंत्र नहीं बनाया गया है। स्मृति ने कहा कि मैं अपना घर अमेठी लोकसभा में ही बनाउंगी, जिससे किसी को अपने सांसद को खोजना नही पड़े।

ये भी पढ़ें…स्मृति ईरानी ने कहा, धर्म-जाति की राजनीति करते हैं राहुल गांधी

बता दें कि स्मृति ईरानी मंच पर मौजूद थी तभी एक महिला स्मृति इरानी के पैरों पर गिर पड़ी। महिला ने स्मृति से शिकायत की कि उसके परिवार वाले उसकी जमीन हड़पना चाहते हैं। इस पूरे वाकये का वीडियो सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि महिला मंच पर आती है और स्मृति इरानी को एक प्रार्थना पत्र देकर उनके पैर पकड़ लेती है।

स्मृति इरानी भी हैरान रह जाती हैं और महिला को बार-बार आश्वासन देते हुए उठाती हैं। महिला को उठाकर स्मृति इरानी ने गले लगाकर आश्वासन दिया कि उनकी शिकायत का समाधान कराया जाएगा।

ये भी पढ़ें…जानिए क्या है स्मृति ईरानी के करीबी की हत्या का सच, DGP ने किया बड़ा खुलासा