×

अमेठी: सड़क हादसे में उजड़े परिवार से मिली सोनिया-प्रियंका, तो हुआ ऐसा कि...

पूरे आठ महीने पहले जिस अमेठी में सोनिया गांधी के बेटे और प्रियंका गांधी के भाई राहुल गांधी को हार मिली गुरुवार को उसी अमेठी में मां-बेटी फिर पहुंची। प्रियंका ने पूर्व की तरह अमेठी की महिलाओं के लिए प्यार नौछावर किया।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 23 Jan 2020 11:05 AM GMT

अमेठी: सड़क हादसे में उजड़े परिवार से मिली सोनिया-प्रियंका, तो हुआ ऐसा कि...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अमेठी: पूरे आठ महीने पहले जिस अमेठी में सोनिया गांधी के बेटे और प्रियंका गांधी के भाई राहुल गांधी को हार मिली गुरुवार को उसी अमेठी में मां-बेटी फिर पहुंची। प्रियंका ने पूर्व की तरह अमेठी की महिलाओं के लिए प्यार नौछावर किया। मौका चूंकि सड़क हादसे में आधा दर्जन लोगों की मौत से जुड़ा था जिसमें एक ही परिवार के दो सगे भाईयों के संग दो चचेरे भाईयों की मौत का था तो प्रियंका ने परिवार की महिलाओं में किसी को अपने कंधे का सहारा तो किसी का सिर अपनी गोद में रखकर ढाढस बंधाया।

बुधवार को दो दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंची थी

गौरतलब हो कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी के साथ बुधवार को दो दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंची थी। भुएमऊ गेस्ट हाउस में चल रहे पार्टी के प्रशिक्षण शिविर में संगठन को मजबूत करने के मंथन के साथ पार्टी नेताओं को मंत्र देकर प्रियंका ने अमेठी जाने की इच्छा जाहिर की।

ये भी पढ़ें—कांग्रेस और दलित नेता CAA के बारे में नहीं जानते, इसलिए फैला रहे भ्रम-जेपी नड्डा

अपने नेताओं के अमेठी आगमन की खबर पाकर अमेठी कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल समेत कांग्रेसी मुस्तैद हो गए। कुछ घंटों के अंदर सोनिया गांधी का काफिला अमेठी कोतवाली के भरेथा गांव पहुंचा। काफिले में प्रियंका गांधी के साथ प्रमोद तिवारी की पुत्री विधायक अनुराधना मिश्रा भी शामिल थीं।

सोनिया और प्रियंका ने यहां पहुंचकर परिवार को ढाढस बंधाया

बता दें कि अमेठी कोतवाली के भरेथा गांव के प्रधान पति कल्पनाथ उनके सगे भाई और दो चचेरे भाईयों समेत 6 लोगों की मंगलवार रात अमेठी में हुए एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी। सोनिया और प्रियंका ने यहां पहुंचकर परिवार को ढाढस बंधाया। उन्होंने दुःख के इस घड़ी में परिवार के साथ खड़े होने की बात कही। उसके बाद उनका काफिला बसायकपुर गांव पहुंचा, यहां इसी हादसे में चालक मनोज यादव की मौत हो गई थी।

ये भी पढ़ें—शकुन-अपशकुन: जानिए गाय, कुत्ता, कौआ और चींटी से जुड़ी रोचक बातें

इन नेताओं को अपने बीच पाकर परिवार वालों का दुःख एकाएक ताजा हो गया। परिवार की महिलाएं प्रियंका के ऊपर गिर कर फूट-फूट कर रोने लगीं। प्रियंका ने उन्हें समझाया और आंसू पोंछे। बता दें की 2019 के चुनाव में अमेठी में राहुल और प्रियंका पर यहां के गरीबों का मजाक उड़ाने का आरोप लगा था। ऐसे में ये कदम उठाकर प्रियंका ने विरोधियों को करारा जवाब दिया है।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story