×

भूखे रहकर स्टेशन मास्टर ने किया ट्रेनों का संचालन, ये है बड़ी वजह

आइस्मा द्वारा अनुशासन में रह कर शांतिपूर्ण तरीके से रेलबोर्ड के इस आदेश के विरोध में अपना आंदोलन 4 चरणों में 7 अक्टूबर से प्रारम्भ किया हुआ है। पहले चरण में सभी रेलवे बोर्ड अधिकारियों को ई मेल किया गया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 31 Oct 2020 5:41 PM GMT

भूखे रहकर स्टेशन मास्टर ने किया ट्रेनों का संचालन, ये है बड़ी वजह
X
आइस्मा द्वारा अनुशासन में रह कर शांतिपूर्ण तरीके से रेलबोर्ड के इस आदेश के विरोध में अपना आंदोलन 4 चरणों में 7 अक्टूबर से प्रारम्भ किया हुआ है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

झांसी: ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन के आह्ववान पर समस्त रेलवे में सभी स्टेशन पर कार्यरत स्टेशन मास्टर्स ने ऑन ड्यूटी भूखे रहकर ट्रेन का संचालन किया। इनके समर्थन में ऑफ ड्यूटी मास्टर्स भी भूख हड़ताल पर रहे। यह विरोध सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक रहा। सभी स्टेशनों पर सरकार एवं रेलवे बोर्ड के नाईट ड्यूटी भत्ता बंद करने के आदेश के खिलाफ 7 अक्तूबर से चल रहे आंदोलन के चौथे चरण में किया गया।

आइस्मा द्वारा अनुशासन में रह कर शांतिपूर्ण तरीके से रेलबोर्ड के इस आदेश के विरोध में अपना आंदोलन 4 चरणों में 7 अक्टूबर से प्रारम्भ किया हुआ है। पहले चरण में सभी रेलवे बोर्ड अधिकारियों को ई मेल किया गया।

दूसरे चरण में 15 अक्टूबर को सभी स्टेशनों पर मोमबत्ती जला कर सांकेतिक विरोध किया गया तीसरे चरण में 20 से 26 अक्टूबर तक सभी स्टेशन मास्टर्स द्वारा काला फीता लगा कर ड्यूटी की गई। आज इस आंदोलन के चौथे चरण में समस्त भारतीय रेल के स्टेशन मास्टर्स 12 घंटे की भूख हडताल पर सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक करते हुए अपनी अपनी ड्यूटी,ट्रेन संचालन किया।

Jhansi

ये भी पढ़ें…झारखंड: प्रदेश BJP अध्यक्ष के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज, लगा है ये गंभीर आरोप

झांसी मंडल में भी ए एन तिवारी केंद्रीय उपाध्यक्ष, अजय दुबे मंडल सचिब के नेतृत्व में समस्त झाँसी मंडल के 115 स्टेशनों पर 550 स्टेशन मास्टर्स द्वारा आन ड्यूटी आफ ड्यूटी रह कर 12 घण्टे का सामूहिक उपवास भूख हड़ताल की। झाँसी स्टेशन ,आर आर आई, डाउन यार्ड,ई आई केविन सभी जगह ए के गुबरेले , राजेन्द्र अनुरागी ,राम कुमार द्विवेदी ,एस के सिंह, पी के अग्रवाल ,मनोज मिश्रा , पी के गुबरेले ,अजय दीक्षित ,एस पी तिवारी, गरिमा तिवारी, प्रियंका श्रीवास्तव, राजकुमारी, राजू वर्मा, अशोक गुप्ता ,बृजेश पाठक, राम सिंह यादव ,श्याम श्रीवास्तब, संजीव दुबे, अनिल अग्निहोत्री, ओ पी सूर्यवंशी, ए यू काजी ,एस के अवस्थी, एस के शर्मा, विजय सक्सेना, नीरज सेन, सहित 50 से अधिक स्टेशन मास्टर्स आन ड्यूटी भूखे रह कार्य किया है।

Aisma

ये भी पढ़ें…सरकारी तंत्र की अनदेखी से वरिष्ठ नागरिकों के स्वास्थ्य को बढ़ रहा खतरा

ग्वालियर के मंडल अध्यक्ष राजवीर खुराना के नेतृत्व में करारी से मुरैना ग्वालियर नेरोगेज में राजेश मीना कार्यकारी अध्यक्ष ,एस के मोदी , जी एस राठौर, पी एस सेंगर ,निशीथ माथुर के साथ साथी ,कानपुर खंड में राजेश नामदेव एवं पंकज त्रिपाठी ,एस पी सिंह कुशवाहा ,मंडल उपाध्यक्ष के साथ कुमार अंशुल, ए पी वर्मा , झाँसी बाँदा मानिकपुर खण्ड में एस एस परिहार जोनल अध्यक्ष एवं श्री पी के सिंह जोनल कोषाध्यक्ष के नेतृत्व में शिव कटियार, पी ए नायक, पी के शर्मा ,आनंद, फिरोज खान ,फराज खान ,राजेश यादव, विनोद मिश्रा ,मुकेश द्विवेदी, एस के सुहाने , कुंदन कुमार , ललितपुर बीना टीकमगढ़ खजुराहो छतरपुर में जगभान ,जगत सिंह ,श्रेयांश जैन ,डी के श्रीवास्तव, आयुष श्रीवास्तब, राजकुमार, मान सिंह मीणा , चरण सिंह मीणा, सुभाष कुमार सहित सभी स्टेशन मास्टर्स एकजुटता से आज भूख हड़ताल पर डटे रहे।

ये भी पढ़ें…पुस्तक समीक्षा: समाज के विभिन्न पहलुओं को बखूबी उकेरती है ‘हंस के मोती’

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Newstrack

Newstrack

Next Story