×

ऐसे मरीजों को अस्पताल से छुट्टी, सात दिन घर पर रहेंगे क्वारंटाइन

यूपी में बिना लक्षण वाले कोरोना मरीजों को अब 10 दिन बाद अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी। कोई लक्षण न दिखने पर उन्हें बिना कोरोना जांच के ही अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

Roshni Khan
Published on: 21 Jun 2020 5:40 AM GMT
ऐसे मरीजों को अस्पताल से छुट्टी, सात दिन घर पर रहेंगे क्वारंटाइन
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: यूपी में बिना लक्षण वाले कोरोना मरीजों को अब 10 दिन बाद अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी। कोई लक्षण न दिखने पर उन्हें बिना कोरोना जांच के ही अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद इन मरीजों को अपने घर में सात दिन क्वारंटाइन रहना होगा। इंडियन काउंसिल आफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) ने मरीजों की डिस्चार्ज पालिसी में बदलाव किया है।

ये भी पढ़ें:आतंकियों को गोलियों से भूना: बड़ी साजिश का था प्लान, सेना ने मंसूबे किए नाकाम

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि आइसीएमआर की गाइड लाइन के अनुसार ऐसे मरीज जिनमें कोरोना के लक्षण पाए जाने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है, उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी जाएगी। फिलहाल सभी कोविड-19 अस्पतालों को निर्देश दिए गए हैं कि वह नई पालिसी के अनुसार मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दें।अभी तक कोरोना मरीजों को अस्पताल से 21 दिन बाद ही छुट्टी दी जाती थी।

अब उन्हें जल्द छुट्टी मिलेगी और वह घर पर क्वारंटाइन रहेंगे। उधर सभी अस्पतालों को निर्देश दिए गए हैं कि वह कोविड-19 हेल्प डेस्क को सुबह आठ बजे से लेकर रात आठ बजे तक अनिवार्य रूप से खोलें। अस्पताल आने वाले मरीजों की स्क्रीनिंग भी ढंग से की जाए। इसके लिए हेल्प डेस्क पर इंफ्रारेड थर्मामीटर व पल्स आक्सीमीटर इत्यादि की व्यवस्था की गई है।

अब तक यूपी में कुल 17194 मिले संक्रमित, 529 लोगों ने तोड़ा दम

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार की तमाम मेहनत के बाद भी वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी पकड़ रहा है। कोरोना वायरस की जांच में तेजी आई तो ज्यादा संख्या में रोगी सामने आ रहे हैं। शनिवार को 14048 नमूनों की जांच की गई तो इसमें से 592 की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। वहीं 13456 की रिपोर्ट निगेटिव आई है यानी इनमें कोरोना वायरस नहीं पाया गया है। अब तक कुल संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 17194 पहुंच गया है। जबकि 22 और लोगों की इस खतरनाक वायरस ने जान ले ली है। अब तक कुल 529 मरीज दम तोड़ चुके हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में 374 मरीज और स्वस्थ हुए। अभी तक कुल 10369 रोगी ठीक हो चुके हैं यानी 60 फीसद मरीज अभी तक स्वस्थ हो चुके हैं। शनिवार को जिन 22 लोगों की मौत हुई उनमें मेरठ में पांच, कानपुर, गाजियाबाद, वाराणसी व हापुड़ में दो-दो और लखनऊ, प्रयागराज, संभल, मथुरा, मुजफ्फरनगर, इटावा, मैनपुरी, फर्रुखाबाद व बागपत का एक-एक व्यक्ति शामिल है।

वहीं जो 592 नए रोगी मिले हैं उनमें हापुड़ में 65, आगरा में नौ, मेरठ में 20, नोएडा में 41, लखनऊ में 38, कानपुर में 55, गाजियाबाद में 40, सहारनपुर में चार, फिरोजाबाद में तीन, मुरादाबाद में 14, वाराणसी में 11, रामपुर में 14, जौनपुर में 16, बाराबंकी में चार, अलीगढ़ में 16, बुलंदशहर में 11, सिद्धार्थनगर में दो, गाजीपुर में 11, अमेठी में नौ, आजमगढ़ में छह, बिजनौर में छह, प्रयागराज में नौ, संभल में दो, संत कबीर नगर में 14, प्रतापगढ़ में दो, मथुरा में 13, सुल्तानपुर में चार, गोरखपुर में सात, मुजफ्फरनगर में नौ, देवरिया में एक, रायबरेली में पांच, गोंडा में चार, अमरोहा में छह, बरेली में दो, इटावा में तीन, हरदोई में आठ, फतेहपुर में तीन, कन्नौज में 10, पीलीभीत में एक, शामली में 13, जालौन में 11, सीतापुर में दो, बदायूं में सात, भदोही में तीन, झांसी में छह, मैनपुरी में एक, मिर्जापुर में तीन, फर्रुखाबाद में पांच, उन्नाव में एक, बागपत में एक, औरैय्या में आठ, श्रावस्ती में एक, एटा में छह, बांदा में एक, हाथरस में एक, चंदौली में तीन, कानपुर देहात में दो, शाहजहांपुर में चार और कुशीनगर में 10 मरीज मिले हैं। अभी तक पूरे प्रदेश में 542974 लोगों के नमूने जांचे जा चुके हैं।

ये भी पढ़ें:बॉलीवुड का योग दिवस: सेलेब्स ने इस अंदाज में दी बधाई, बताए कई फायदे

प्रदेश में नए मिले 817 संक्रमितों में नोएडा में 151, आगरा में 15, मेरठ में आठ, लखनऊ में 31, कानपुर में 46, गाजियाबाद में 36, सहारनपुर में 26, फिरोजाबाद में 15, मुरादाबाद में एक, वाराणसी में 17, रामपुर में 16, जौनपुर में 13, बस्ती में नौ, बाराबंकी में चार, अलीगढ़ में 27, हापुड़ में 31, बुलंदशहर में 30, अयोध्या में चार, गाजीपुर में 20, अमेठी में सात, आजमगढ़ में तीन, प्रयागराज में आठ, संभल में 17, बहराइच में तीन, संत कबीर नगर में दो, मथुरा में 19, सुल्तानपुर में 20, गोरखपुर में नौ, मुजफ्फरनगर में 21, देवरिया में छह, रायबरेली में तीन, लखीमपुर में सात, गोंडा में तीन, अमरोहा में 13, अंबेडकरनगर में एक, बरेली में आठ, इटावा में 14, हरदोई में दो, महाराजगंज में तीन, फतेहपुर में छह, कन्नौज में छह, पीलीभीत में 11, शामली में पांच, जालौन में छह, सीतापुर में एक, बदायूं में 18, झांसी में चार, चित्रकूट में 10, मैनपुरी में 15, मिर्जापुर में आठ, फर्रुखाबाद में छह, उन्नाव में 10, बागपत में आठ, औरैय्या में छह, एटा में एक, हाथरस में चार, मऊ में एक, चंदौली में दो, कानपुर देहात में दो, शाहजहांपुर में 14, कासगंज में तीन और हमीरपुर में एक रोगी शामिल हैैं। अभी तक पूरे प्रदेश में 532505 लोगों के नमूनें जांच के लिए लैब भेजे जा चुके हैं।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story