तेज बहादुर यादव ने फ‍िर खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा, जानें पूरा मामला

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से पीएम नरेन्द्र मोदी के खिलाफ याचिका लेकर पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव  सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए हैं।बता दें इससे पहले वह इलाहबाद हाईकोर्ट गए थे।

Published by Aditya Mishra Published: February 18, 2020 | 8:42 pm
Modified: February 18, 2020 | 9:07 pm

वाराणसी: प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से पीएम नरेन्द्र मोदी के खिलाफ याचिका लेकर पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव  सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले वह इलाहबाद हाईकोर्ट गए थे जहां कोर्ट ने उनकी याचिका यह कहते हुए खारिज कर दी थी कि न तो वह वाराणसी के वोटर हैं और नहीं पीएम मोदी के खिलाफ उम्मीदवार थे इसलिए उनका चुनाव संबंधी याचिका दायर करने का कोई ओचित्य नहीं बनता।

ये भी पढ़ें…वाराणसी के 16 हजार मरीजों को आयुष्मान भारत का लाभ मिला- पीएम मोदी

वाराणसी से भरा था पर्चा

बता दें लोकसभा चुनावों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ वाराणसी (Vanarasi) से जवान तेज बहादुर ने पर्चा भरा था, जिसे निर्वाचन आयोग ने गलत जानकारी के अभाव में खारिज कर दिया। जिसके बाद तेज बहादुर ने आरोप लगाया था कि उन्हें साजिश के तहत चुनाव नहीं लड़ने दिया गया। ताकि प्रधानमंत्री आसानी से जीत सके।

तिहरे हत्याकांड के आरोपी ने खुद को अदालत में मारी गोली, 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड

सपा का मिला था साथ

बता दें शुरु में तेजबहादुर ने निर्दलीय के रुप में पर्चा भरा था, बाद में समाजवादी पार्टी (SP) ने उन्हें अपना समर्थन दिया था। लेकिन आखिरी समय पर बाद में उनका पर्चा नहीं भरा जा सका।

कानून व्यवस्था पर सख्त दिखे CM योगी, पुलिस कप्तान और थानेदारों को दिए निर्देश