सीवर नेटवर्क संबंधी शिकायतों का निस्तारण शीघ्र किया जाए: आशुतोष टंडन

उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने गुरुवार को सीवेज ट्रीटमेंट प्रणाली, संबंधित इन्फ्रास्टेक्चर एवं सीवर नेटवर्क का संचालन, उसका रख-रखाव व प्रबंधन हेतु सुएज इण्डिया लखनऊ के अन्तर्गत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा विधानसभा स्थित कार्यालय में की।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने गुरुवार को सीवेज ट्रीटमेंट प्रणाली, संबंधित इन्फ्रास्टेक्चर एवं सीवर नेटवर्क का संचालन, उसका रख-रखाव व प्रबंधन हेतु सुएज इण्डिया लखनऊ के अन्तर्गत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा विधानसभा स्थित कार्यालय में की।

बैठक में टंडन ने कहा कि एक टीम होनी चाहिये जो प्रतिदिन की शिकायतो को निस्तारित करे। दूसरी टीम सीवर लाइन को वैज्ञानिक ढंग से ठीक करने में लगे। प्रिवेन्टिव मेनटेनेन्स पर सिस्टम पर कार्यो को किया जाये। जो नाले के ऊपर से ओवर फ्लो कर रहे है उनको शत प्रतिशत टैपिंग करना शुरू करे। तीसरा मैन पावर और मशीनों के बारे में आगामी तीन माह में किये जाने वाले कार्यो के बारे में अवगत कराये जिससे कि कार्यदायी संस्था द्वारा 06 इमरजेंसी वेहिकल जो आज लांच किये गये है उसके द्वारा जनता को राहत मिले। जल संस्थान द्वारा बताया गया कि जनवरी से कार्यो में तेजी आई है जिससे जनता को राहत मिलनी प्रारम्भ हो गयी है।

यह भी पढ़ें…गुड़िया गैंगरेप केस: कोर्ट ने किया सजा का ऐलान, अब दोषियों की जेल में बीतेगी जिंदगी

उन्होंने कहा कि सीवेज संबंधी कार्यो में और तेजी लाई जाये तथा जल्द से जल्द जनता का विश्वास जीतते हुये उनकी शिकायतो का निस्तारण किया जाय। नगरीया से जो ओवर फ्लो गोमती नदी में आ रहा था उसे बंद कर दिया गया है। रिएक्टरों एवं कीचड़ नाली की क्षतिग्रस्त एचडीपीई पाइपों की मरम्मत की गई है। लखनऊ के समस्त 7 जोनो हेतु 5 से 10 रोबोटिक मशीने मगाई गई है। लखनऊ का समस्त सीवरेज नेटवर्क सिस्टम पर है। जिसमें प्रत्येक पाइप को देखा जा सकता है कि कहां से कहां तक जा रहा है।

यह भी पढ़ें…जामिया इलाके में जय श्रीराम के नारे लगाते युवक ने की फायरिंग, एक घायल

कार्यदायी संस्था द्वारा यह भी बताया गया कि आने वाले तीन महीनो में जी एस कैनाल और कुकरैल का पंप स्क्रीन, ट्रांसफारमर, केबल बदलने का कार्य किया जाना है। साथ ही 1500 एडिशनल जनरेटर लगाया जाना है, जिससे पावर कट में भी जनता की दिक्कतों को सामना ना करना पड़े।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App