पुलिस के रडार पर ये टॉप-10 अपराधी, इस शातिर गैंगेस्टर की संपत्ति कुर्क

कानपुर में विकास दुबे एनकाउंटर के बाद यूपी पुलिस ने अपराधियों पर शिकंजा कसना शुरु किया है। इसके तहत टॉप-10 अपराधियों की शामत आ गई है। वे झाँसी पुलिस के रडार पर आ गए हैं। पुलिस ने उनकी अवैध संपत्ति की जांच के बाद जब्तीकरण शुरु किया है।

jhansi police

पुलिस के रडार पर ये टॉप-10 अपराधी, इस शातिर गैंगेस्टर की संपत्ति कुर्क

झाँसी: कानपुर में विकास दुबे एनकाउंटर के बाद यूपी पुलिस ने अपराधियों पर शिकंजा कसना शुरु किया है। इसके तहत टॉप-10 अपराधियों की शामत आ गई है। वे झाँसी पुलिस के रडार पर आ गए हैं। पुलिस ने उनकी अवैध संपत्ति की जांच के बाद जब्तीकरण शुरु किया है। शनिवार को भी एक ओर गैंगेस्टर की संपत्ति कुर्क की गई है। यही नहीं, 100 से अधिक अपराधियों की संपत्ति की गोपनीय तरीके से जांच चल रही हैं। पुलिस की इस कार्रवाई से बदमाशों और उनके परिजनों में हड़कंप मचा हुआ है। जिले में पिछले काफी दिनों से बदमाश बेखौफ होकर आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे थे।

ये भी पढ़ें: आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थीः शून्य शुल्क पर प्रवेश दिलाने के लिए आंदोलन करेगी सपा

विगत तीन के भीतर ही झाँसी में छह से अधिक लोगों की हत्याएं हो चुकी है। जबकि लूट और चोरी की घटनाओं का ग्राफ भी बढ़ रहा है। झाँसी पुलिस ने अब जिले के टॉप बदमाशों को अपने रडार पर ले लिया है। उसने जिले के टॉप-10 बदमाशों की संपत्ति की जांच शुरु कर दी है। इसके लिए बकायदा पुलिस, राजस्व और परिवहन विभाग की टीमें भी गठित की है।

कई बदमाशों के परिजन भूमिगत हो गए

बताते हैं कि मऊरानीपुर, मोंठ, बबीना, गरौठा और झाँसी के खनन माफिया, सट्टेबाज, जुआ, सेक्स रैक्ट, शराब माफिया पुलिस की रडार पर है। एसएसपी दिनेश कुमार पी के निर्देश पर इन बदमाशों की अवैध संपत्ति की जांच शुरु हो गई हैं जबकि अब तक आठ लोगों की संपत्ति जब्त की गई है। दूसरी ओर पुलिस की इस कार्रवाई से बदमाशों और उनके परिजनों में हड़कंप मचा हुआ है। कई बदमाशों के परिजन तो भूमिगत भी हो गए हैं। एसएसपी दिनेश कुमार पी के मुताबिक जिले के सभी 25 थानों के टॉप बदमाशों की संपत्ति की जांच की जा रही है। उनकी अवैध संपत्तियों को जब्त किया जाएगा। सभी थाना प्रभारियों को जल्द ही अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं।

इनकी संपत्ति की गई है जब्त

गैंगेस्टर एक्ट की धारा 14 (1) के अंतर्गत बदमाशों की बेनामी संपत्ति जब्त की गई है। इनमें टहरौली थाना क्षेत्र के ग्राम बघेरा निवासी चरन सिंह की तीन लाख, चिरगांव थाना क्षेत्र के ग्राम निवी निवासी मोतीलाल पाल की 35 हजार रुपया, बड़ागांव थाना क्षेत्र के ग्राम टाकोरी के कबूतरा डेरा पर रहने वाले अलख प्रसाद की तीस हजार, बरुआसागर थाना क्षेत्र में महोबा के थाना खरेला के ग्राम बल्लाय निवासी दिलीप राजपूत की 40 हजार, दिनेश कुमार की 35 हजार चिरगांव के ग्राम संतबेहटा निवासी नरेश चंद्र यादव की 60 हजार, टहरौली थाना क्षेत्र के ग्राम कुकरगांव निवासी चंदन सिंह उर्फ बबलू गुर्जर की सात लाख और मऊरानीपुर थाना क्षेत्र के भगवतीपुरम कालोनी में रहने वाले शेर सिंह राजावत की छह लाख रुपयों की संपत्ति जब्त की गई है।

इनके लाइसेंस हुए निरस्त

पुलिस विभाग के मुताबिक कोतवाली पुलिस ने डरुभोंडेला निवासी संजय वर्मा की डीबीबीएल गन, पिस्टल, राई का ताजिया निवासी अब्दुल कदीर की रायफल, पिस्टल, इतवारीगंज निवासी सुलेमान अहमद की डीबीबीएल, नईबस्ती मोहल्ले में रहने वाले धर्मेन्द्र कुमार भदौरिया की डीबीबीएल, नवाबाद पुलिस ने तहसील के पास रहने वाले चंद्रशेखर की डीबीबीएल, रायफल, एक रिवाल्वर, टहरौली पुलिस ने ग्राम बघेरा निवासी अजय कुमार की रायफल, बड़ागांव थाने की पुलिस ने ग्राम बराठा निवासी कप्तान सिंह की रिवाल्वर, भगत सिंह की रायफल व बबीना पुलिस ने जलनिगम रोड के पास रहने वाले उधम सिंह की 315 बोर रायफल का लाइसेंस निरस्त करवाया है।

ये भी पढ़ें: सीमा पर गोलाबारी शुरू: अब तक 24 भारतीयों की मौत, आर्मी डटकर कर रही सामना

चंदन सिंह की फिर की गई संपत्ति जब्त

टहरौली थाना क्षेत्र के ग्राम कुकरगांव में रहने वाले चंदन सिंह उर्फ बब्लू सिंह गुर्जर ने अवैध खनन करके एवं अवैध क्रियाकलापों के माध्यम से संपत्ति अर्जित की है। इस आधार पर टहरौली पुलिस ने शनिवार को 15 लाख की संपत्ति जब्त की गई है। इस अपराधी पर विभिन्न दफाओं के 11 मुकदमे पंजीकृत है।

नौ लोगों पर गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई

कोतवाली पुलिस ने मऊरानीपुर थाना क्षेत्र के गांधीनगर में रहने वाले चंचल अहिरवार समेत तीन और बड़ागांव थाने की पुलिस ने पंचमपुरा मोहल्ले में रहने वाले अनिकेत यादव समेत छह लोगों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई की है।

पंद्रह साल में प्रकाश में आए बदमाशों की बन रही हैं सूची: एसएसपी

एसएसपी दिनेश कुमार पी का कहना है कि 15 साल से अपराध कर रहे बदमाशों की सूची तैयार की जा रही है। इस सूची में हत्या, लूट आदि वारदातों के मुलजिम है। इन मुलजिमों की सूची तैयार हो रही हैं। एक्टिव बदमाशों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा। पता चला है कि अपराध करने के बाद कुछ लोग सफेदपोश की भूमिका में सक्रिय है। इनका चिन्हीकरण किया जा रहा है।

रिपोर्ट: बी.के. कुशवाहा

ये भी पढ़ें: सचिन पायलट ने फिर फोड़ा लेटर बम, आरक्षण के मुद्दे से बढ़ाई गहलोत की मुसीबत

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App