पुलिसवालों ने महिला से तब तक किया रेप जब तक नहीं हो गई गर्भवती

महिला का आरोप है कि इस दौरान दरोगा ने महिला को अपने कमरे पर पूछताछ के बहाने बुलाया और उसके साथ रेप किया। मामला यही नहीं रुका। दरोगा ने महिला का वीडियो भी बना लिया और उसे धमकी दी कि वो उसके पति का एनकाउंटर कर देगा।

एटा: यूपी के एटा जिले से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। दरअसल, एक महिला ने दो दरोगाओं पर रेप का आरोप लगाया है। महिला ने आरोप लगाया है कि एटा के अवागढ़ थाने में तैनात दो दरोगाओं ने उसके साथ रेप किया और उसके पति को मुठभेड़ में मारने की लगातार धमकी दी। महिला की रिपोर्ट अब दर्ज कर ली गई है दोनों दरोगाओं को लाइन हाजिर कर दिया गया है। इस मामले के सामने आने से पूरा पुलिस महकमें में हडकंप मचा हुआ है।

अवागढ़ थाना इलाके का है मामला

बता दें कि अवागढ़ थाना इलाके में रहने वाला एक युवक कोर्ट के चक्कर अपने गैर जमानती वारंट के लिए लगा रहा था। ऐसे में वह इस वारंट को निरस्त कराने के लिए पैसों की खातिर मजदूरी करने दिल्ली चला गया। इसके बाद अवागढ़ थाने में तैनात एक दरोगा इस युवक के घर हर बार दबिश देने लगा। दरोगा ने युवक की पत्नी का नंबर भी इसी दौरान ले लिया।

यह भी पढ़ें: विश्व कप 2019: रवि शास्त्री का विवादित बयान, इसलिए हारी इंडिया

महिला का आरोप है कि इस दौरान दरोगा ने महिला को अपने कमरे पर पूछताछ के बहाने बुलाया और उसके साथ रेप किया। मामला यही नहीं रुका। दरोगा ने महिला का वीडियो भी बना लिया और उसे धमकी दी कि वो उसके पति का एनकाउंटर कर देगा। यह सब करीब 5 महीने तक चला।

दरोगा ने बनाया अश्लील वीडियो

इस दौरान दरोगा ने अपने साथ दरोगा को भी बुला लिया और महिला का उसके साथ भी अश्लील वीडियो बनाया। इसके बाद दोनों ने महिला को ब्लैकमेल किया। बाद में जब युवक घर लौटा तो महिला ने उसे पूरा मामला बताया। महिला ने बताया कि वह प्रेग्नेंट हो गई। ऐसे में पत्नी और पत्नी ने आरोपियों के खिलाफ आवाज उठाने का मन बनाया।

यह भी पढ़ें: अब बुआ-बबुआ आए CBI जांच के घेरे में, क्या उपचुनाव में पड़ेगा असर!

जब इसकी भनक आरोपियों को लगी तो उन्होंने युवक के अंगूठे के स्टांप पेपर्स पर लगवा लिए। मगर पीड़ित युवक और महिला यही नहीं रुके और उन्होंने अपनी बात अधिकारियों को बताई। इस मामले की जांच अपर पुलिस अधीक्षक एटा संजय कुमार ने जलेसर के सीओ गुरमीत सिंह को सौंपी।

इस धाराओं में दर्ज हुआ मामला

मामले की जांच के बाद अवागढ़ थाने में पीड़ित महिला के पति की तहरीर पर उक्त दोनों दरोगाओं के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, 506, 120बी की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया हैं। इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई ने बताया कि दोनों आरोपी दरोगाओं को तुरंत प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया है।

यह भी पढ़ें: RBI के सर्वे ने किया खुलासा: देश के इस शहर में मिलते हैं सबसे सस्ते घर