सीएम योगी की सुरक्षा में चूक: रिसीव होने के बाद पार्सल कहां गया, SIT करेगी जांच

बीते साल 8 अक्टूबर 2020 को एक प्राइवेट कंपनी के कोरियर से एक पार्सल लखनऊ एनेक्सी में मुख्यमंत्री के नाम भेजा गया था। ये पार्सल एनेक्सी के सुरक्षाकर्मियों ने रिसीव किया था। रिसीव होने के बाद ये पार्सल गायब हो गया था।

Published by SK Gautam Published: January 25, 2021 | 8:09 pm
cm yogi adityanath

सीएम योगी की सुरक्षा में चूक: रिसीव होने के बाद पार्सल कहां गया, SIT करेगी जांच-(courtesy-social media)

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा बहुत कड़ी होती है जिसमें थोड़ी सी भी चूक होना बड़ी बात है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय में आए एक संदिग्ध पार्सल के गायब होने से हड़कंप मचा हुआ है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा में ढिलाई पर अब शासन ने जांच के आदेश दिए हैं। ये जांच एसआईटी करेगी।

एक कुरियर कंपनी के जरिए भेजा गया था

दरअसल, बीते साल 8 अक्टूबर 2020 को एक प्राइवेट कंपनी के कोरियर से एक पार्सल लखनऊ एनेक्सी में मुख्यमंत्री के नाम भेजा गया था। ये पार्सल एनेक्सी के सुरक्षाकर्मियों ने रिसीव किया था। रिसीव होने के बाद ये पार्सल गायब हो गया था।

cm yogi adityanath-2

मामले की जांच एसआईटी को सौंपी गई

इस समस्या को लेकर कुछ समय पहले मिशन न्यू इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को इस संबंध में पत्र लिखकर जानकारी दी थी। साथ ही शासन से मांग की थी कि ये मुख्यमंत्री की सुरक्षा से जुड़ा मामला है और इसमें कोताही नहीं बरती जा सकती है इसलिए शासन पूरे मामले की एसआईटी से जांच कराए। मामला मुख्यमंत्री की सुरक्षा से जुड़ा था इसलिए ये पत्र मिलते ही शासन ने पूरे मामले की जांच एसआईटी को सौंप दी।

ये भी देखें: वैक्सीन की दोनों डोज लगने तक करना होगा कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन

parsal

 एसआईटी को 15 दिनों का समय दिया

दरअसल, इस पूरे मामले में सुरक्षा अधिकारी की भूमिका को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं क्योंकि अगर इस तरह का कोई पार्सल मुख्यमंत्री के नाम पर आया था तो उस पार्सल में क्या था और वो क्यों गायब किया गया। सवाल कई और भी हैं जिनके जवाब जांच के बाद मिलेंगे। शासन ने एसआईटी को 15 दिनों का समय दिया है कि वो पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट दे। जाहिर सी बात है जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद कई लोगों पर कार्रवाई भी हो सकती है।

ये भी देखें: किसानों-पुलिस में नोकझोंक: तोड़ दी गई बैरिकेटिंग, बागपत से आई ये बड़ी खबर

दोस्तों देश दुनिया की और  को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App