वाराणसी में बेकाबू हुए बदमाश, 24 घंटे में दो खौफनाक वारदात, शहर में फैली दहशत

चौबीस घंटे के अंदर दूसरी बार बदमाशों ने पुलिस को चुनौती दी. चौबेपुर इलाके में जहाँ सुबह पत्रकार और उसके बेटे को गोली मारी गई वहीं शाम होते-होते लंका इलाके में जमीन के विवाद में अपराधियों ने संजय गुप्ता नाम के एक शख्स पर गोलियां बरसा दी.

Published by Monika Published: January 24, 2021 | 8:28 am
vanarasi crime

बनारस में बेख़ौफ़ हुए बदमाश (file pic )

वाराणसी: चौबीस घंटे के अंदर दूसरी बार बदमाशों ने पुलिस को चुनौती दी. चौबेपुर इलाके में जहाँ सुबह पत्रकार और उसके बेटे को गोली मारी गई वहीं शाम होते-होते लंका इलाके में जमीन के विवाद में अपराधियों ने संजय गुप्ता नाम के एक शख्स पर गोलियां बरसा दी. आनन-फ़ानन में उसे ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है, जहाँ उसकी हालत गंभीर बनी हुई है.

ज़मीन के विवाद में मारी गोली

शनि‍वार शाम लंका थाना क्षेत्र के महामना पुरी कॉलोनी में 42 वर्षीय संजय गुप्ता को बदमाशों ने गोली मार दी. गोली लगते हैं संजय जमीन पर गिर पड़े.आसपास के लोगों ने उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती करवाया.जहां से उन्हें इलाज के लिए ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया. लोगों की तत्परता के कारण आरोपी रजनीश पटेल को पकड़ा गया है.स्थानीय लोगों ने आरोपी को लंका पुलिस के हवाले कर दिया है.घटना के बाद ट्रॉमा सेंटर पर वाराणसी के एसपी सि‍टी वि‍कास चंद्र त्रि‍पाठी सहि‍त भारी संख्‍या में पुलि‍स पहुंच गयी. घायल संजय का इलाज बीएचयू के ट्रामा सेंटर में चल रहा है। एसपी सि‍टी के अनुसार प्रथम दृष्टया यह मामला जमीनी विवाद का है.हालांकि पुलिस पूरे मामले की वि‍भि‍न्‍न पहलुओं से जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें…राम मंदिर के लिए सबसे बड़ा दान, इस बुजुर्ग शिक्षक ने सौंप दी जीवनभर की कमाई

पत्रकार और बेटे पर चली गोली

बता दें कि‍ वाराणसी में बीते 24 घंटे में ही दो बार गोलियों की तड़तड़ाहट से जि‍ला पुलि‍स सकते में है.सुबह जहां चौबेपुर इलाके में पि‍ता पुत्र को पड़ोसी ने गोली मार दी वहीं शाम को लंका थानाक्षेत्र में घटी घटना ने वाराणसी में कानून व्यवस्था पर सवालि‍या नि‍शान लगा दि‍या. हालांकि दोनों ही मामलों में आपसी रंजिश नि‍कल कर सामने आयी है. लंका मामले में फि‍लहाल पुलि‍स की गि‍रफ्त में एक आरोपी आ चुका है, जबकि‍ सुबह चौबेपुर में हुई घटना का आरोपी अभी भी पुलि‍स पकड़ से बाहर है.

आशुतोष सिंह

ये भी पढ़ें : सबसे ज्यादा जिलों के कलेक्टर रहे हैं IAS अमित गुप्ता, लिम्का बुक में नाम है दर्ज

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App