लॉकडाउन : संकट मोचन मंदिर में डिजिटल ‘संगीतांजलि’ देंगे संगीत जगत के दिग्गज

कोरोना संकट के चलते पूरा देश लॉकडाउन है। किसी भी तरह के आयोजन पर सख्त मनाही है। ऐसे में हनुमान जयंती पर हर साल होने वाले संकट मोचन समारोह की परंपरा ना टूटे इसके लिए आयोजक लगातार कोशिश कर रहे हैं।

वाराणसी। कोरोना संकट के चलते पूरा देश लॉकडाउन है। किसी भी तरह के आयोजन पर सख्त मनाही है। ऐसे में हनुमान जयंती पर हर साल होने वाले संकट मोचन समारोह की परंपरा ना टूटे इसके लिए आयोजक लगातार कोशिश कर रहे हैं। इसी के तहत अब संगीत समारोह में संगीत के दिग्गज आन आराध्य देव को डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिये संगीतांजली देंगे।

ऑनलाइन करेंगे परफॉर्म

भगवान शिव की नगरी काशी में हर साल होने वाला संकटमोचन संगीत समारोह जिले की पहचान बन चुका है। ऐसे में इस साल संकटमोचन संगीत समारोह वैश्विक महामारी कोरोना के चलते पहली बार डिजिटल होने जा रहा है।

संकट मोचन मंदिर के महंत प्रोफेसर विश्वम्भर नाथ मिश्रा ने बताया कि देश में लॉकडाउन के चलते मंदिर आम लोगों के लिए बन्द किया गया है। जिम्मेदार नागरिक होने के हम नहीं चाहते हैं कि किसी तरह की परेशानी जिला प्रशासन या फिर किसी अन्य शख्स को हो। इसलिए सभी रस्में और आयोजन सांकेतिक तौर पर मंदिर से जुड़े लोग करेंगे।

ये भी पढ़ेंः सरकारी घर में तहसीलदार की हुई पिटाई, BJP सांसद पर आरोप

संगीत समारोह के लिए दिग्गजों ने सहमति दे दी है। इसके तहत डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिये दिग्गज परफॉर्म करेंगे। पूरे कार्यक्रम का ऑनलाइन प्रसारण कराने की भी तैयारी की जा रही है।

ये दिग्गज होंगे शामिल

संकट मोचन संगीत समारोह 12 से 17 तक चलेगा। इस दौरान हनुमान जी महाराज को डिजिटल माध्यम से श्रवण कराया जाएगा। अब तक 20 कलासाधकों ने अपनी स्वीकृति दे दी है।

ये भी पढ़ेंःलॉकडाउन से इस सेक्टर को तगड़ा झटका, 80 हजार लोगों की नौकरी खतरे में

जिसमें पंडित जसराज, राजन-साजन मिश्र, अजय पोहनकर, अजय चक्रवर्ती, उस्ताद राशिद खां, अरमान खां, उल्लास कसालकर जैसे कलाकार शामिल हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।