×

महिला ने मुख्यमंत्री को खून से लिखी चिट्टी, पुलिस उत्पीड़न से थी परेशान

जनपद कौशाम्बी के कोखराज थाना क्षेत्र के मूरतगंज कस्बे की रहने वाली साजिदा बेगम मंझनपुर ने थानाध्यक्ष पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। उन्होंने मुख्यमंत्री को अपने खून से पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाई है।

Dharmendra kumar
Published on: 5 Oct 2019 3:32 PM GMT
महिला ने मुख्यमंत्री को खून से लिखी चिट्टी, पुलिस उत्पीड़न से थी परेशान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: जनपद कौशाम्बी के कोखराज थाना क्षेत्र के मूरतगंज कस्बे की रहने वाली साजिदा बेगम मंझनपुर ने थानाध्यक्ष पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। उन्होंने मुख्यमंत्री को अपने खून से पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें...जानिए पाक पीएम इमरान को किस बात का सता रहा है डर, लोगों की दी ये चेतावनी

महिला ने अपने पत्र में लिखा है कि उसके पति वसीम कई सालों से जमीन की खरीद फरोख्त का काम करते है। उनके साथ व्यापार में बतौर पार्टनर का काम करने वाले प्रयागराज निवासी डॉक्टर अनूप बनर्जी प्लॉटिंग का भी काम करते है। रुपये के लेनदेन को लेकर विवाद के बाद दोनों ने एक-दूसरे से दूरी बना ली।

यह भी पढ़ें...अरुणांचल में भारतीय सेना के इस कदम के बाद बौखलाया चीन, कही ऐसी बात

आरोप है कि डॉक्टर ने मंझनपुर थाना पुलिस को अपने पक्ष में लेकर पति को झुठे मामले में गिरफ्तार करा दिया। इतना ही नहीं पुलिस ने वसीम को बेहरमी से पीटा, जिससे उनके एक हाथ टूट गया। गंभीर चोटे आयी है। पीड़ित परिवार ने थानाध्यक्ष की शिकायत क्षेत्राधिकारी व एसपी प्रदीप गुप्ता से भी की, लेकिन उन्होंने भी कोई कार्रवाई नहीं की। न्याय न मिलने की वजह से पीड़ित महिला ने शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने खून को चिट्टी लिखते हुए न्याय की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें...अभी-अभी यहां हुआ खतरनाक हवाई हमला, 9 जिहादियों की मौत

पुलिस महकमे पर लगे आरोपों पर एसपी प्रदीप गुप्ता ने बताया है कि दोनों पक्ष एक दूसरे पर रुपये के लेन देन का आरोप लगा रहे है। किसी भी पक्ष ने कोई लिखित शिकायत नहीं की है। पुलिस के ऊपर लगे आरोप झूठे हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story