कंडोम, माला-एन, छाया टेबलेटः 11 जुलाई से शुरू पखवारे में रहेगी इनकी धूम

विश्व जनसंख्या दिवस (11 जुलाई) इस साल भी दो चरणों में मनाया जाएगा। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए इस साल स्वास्थ्य विभाग ‘‘आपदा में भी…

Published by Ashiki Patel Published: July 10, 2020 | 12:49 pm

झांसी: विश्व जनसंख्या दिवस (11 जुलाई) इस साल भी दो चरणों में मनाया जाएगा। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए इस साल स्वास्थ्य विभाग ‘‘आपदा में भी परिवार नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी’’ स्लोगन के साथ इस महत्वपूर्ण अभियान में जुटेगा। पहले चरण के तहत विभागीय टीमों ने दंपतियों से संपर्क करना शुरू कर दिया है। उन्हें परिवार नियोजन के अस्थाई और स्थाई साधनों के बारे में जानकारी दी जा रही है। दूसरे चरण में रजिस्टर्ड दंपति को परिवार नियोजन साधन उपलब्ध कराए जाएंगे।

ये भी पढ़ें: गिरफ्तारी की तरह एनकाउंटर पर भी उठे कई सवाल, जवाब देना होगा मुश्किल

परिवार नियोजन पखवाड़े का पहला चरण शुरू

अपर मुख्य चिकित्साधिकारी और परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. एन के जैन ने बताया कि परिवार नियोजन पखवाड़े का पहला चरण शुरू हो चुका है, जिसमें आशा और एएनएम जनपद भर में दंपतियों से संपर्क कर उन्हें परिवार नियोजन के अस्थाई और स्थाई साधनों के बारे में जानकारी दे रही है, और उनका नाम भी रजिस्टर्ड कर रही हैं। इसके बाद 11 से लेकर 31 जुलाई तक इन्हीं रजिस्टर्ड दंपतियों को परिवार नियोजन से जुड़े साधन मुहैया कराए जाएंगे। इस बार पुरुषों को ज्यादा से ज्यादा नसबंदी के प्रति जागरूक करने की कोशिश की जाएगी।

ये भी पढ़ें: विकास दुबे का एनकाउंटर: ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे रोहित शेट्टी, शेयर हो रहे ऐसे मीम्स

एएनएम को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। आशा बहुएं महिलाओं के बीच जाकर उन्हें नसबंदी के प्रति जागरूक करेंगी। अस्थाई साधनों में कंडोम, माला-एन, छाया टेबलेट का वितरण होगा। अंतरा इंजेक्शन और कॉपर टी के बारे में जानकारी दी जाएगी।

नोडल अधिकारी ने बताया कि कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए जनपद में प्रत्येक सोमवार को सभी स्वास्थ्य इकाइयों पर अंतराल दिवस मनाया जाएगा। इस दिन अस्पताल पहुंचने वाली महिलाओं और नवदंपतियों को गर्भनिरोधक के अस्थाई साधनों के बारे में जानकारी दी जाएगी। साथ ही विशेषज्ञों द्वारा शंकाओं का समाधान किया जाएगा। एक ही जगह पर परिवार नियोजन के सभी साधन भी उपलब्ध कराए जाएंगे।

ये भी पढ़ें: इजरायल ने ईरान पर किया हमला! तीन बार हुआ भीषण विस्फोट, मची भगदड़

जिला अस्पताल के साथ-साथ स्वास्थ्य इकाइयों पर भी गर्भनिरोधक गोलियों व कंडोम की पर्याप्त उपलब्धता है। इस दिवस के आयोजन से लोगों को परिवार नियोजन के अस्थाई साधनों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

रिपोर्ट: बी.के. कुशवाहा

ये भी पढ़ें: कपड़ों के आरपार देख सकता है चाइनीज फोन का ये कैमरा, अब किया गया बैन

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App