पाकिस्तान: सिंध स्कूल के प्रिंसिपल पर झूठी FIR, प्रदर्शनकारियों ने जमकर किए दंगे

आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाए जाने के बाद आएदिन पाकिस्तान का कोई न कोई नया रुप देखने को मिल रहा है। पाकिस्तान से सिंध के घोटकी में हिंदू समुदाय के स्कूल प्रिंसिपल को इशनिंदा के झूठे आरोप में फंसाने का मामला सामने आया है।

पाकिस्तान: सिंध स्कूल के प्रिंसिपल पर झूठी FIR, प्रदर्शनकारियों ने जमकर किए दंगे

पाकिस्तान: सिंध स्कूल के प्रिंसिपल पर झूठी FIR, प्रदर्शनकारियों ने जमकर किए दंगे

इस्लामाबाद: आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाए जाने के बाद आएदिन पाकिस्तान का कोई न कोई नया रुप देखने को मिल रहा है। पाकिस्तान से सिंध के घोटकी में हिंदू समुदाय के स्कूल प्रिंसिपल को इशनिंदा के झूठे आरोप में फंसाने का मामला सामने आया है। इस घटना के बाद से सिंध में लोग दंगे कर रहे हैं। वहां पर मंदिरों में तोड़फोड़ भी की गई।

प्रदर्शनकारियों ने की गिरफ्तारी की मांग-

सिंध स्कूल के प्रिंसिपल पर एक छात्र के पिता अब्दुल अजीज राजपूत के शिकायत किए जाने पर उनके खिलाफ प्रथामिकी दर्ज की गई है। दरअसल, छात्र के पिता का कहना है कि शिक्षक ने इस्लाम के पैंगम्बर के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी कर ईशनिंदा की है। सिंध स्कूल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद घोटकी जिले में प्रदर्शन किए गए। प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन कर प्रिंसिपल नोतन मल की गिरफ्तारी की मांग की। इस घटन के बाद पुलिस महानिरीक्षक जमील अहमद ने कहा है कि आरोपी की सुरक्षा के लिए पुलिस ने उनको हिरासत में लिया है। इस घटना की वीडियो पाकिस्तानी पत्रकार ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर ट्वीट किया है।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में गधों का मेला, ऐसे खुलेआम बिक रहे एके-47 और रॉकेट लॉन्‍चर

वहीं स्कूल में तोड़फोड़ किए जाने की एक वीडियो पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग ने सांझा की है और इस स्थिति पर गंभीर चिंता जताई है। मानवाधिकार संगठन ने एक ट्वीट में लिखा है कि, घोटकी में ईशनिंदा के आरोपी की खबरें चिंताजनक है। घोटकी के पुलिस अधीक्षक फारुख लंजार ने बताया कि, पुलिस क्षेत्र में कानून और व्यवस्था की स्थिति पर काबू कर रही है।

सुरक्षा के मद्देनजर अज्ञात स्थान पर रखे गए हैं शिक्षक- वांकवानी

साथ ही इस मामले में पाकिस्तान के हिंदू परिषद् के प्रमुख पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेता रमेश कुमार वांकवानी ने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर प्रिंसिपल को किसी अज्ञात स्थान पर ले जाया गया है और मामले की विस्तृत जांच के लिए उन्हें पाकिस्तान में हैदराबाद के उप महानिरीक्षक नईम शेख के हवाले किया जाएगा। प्रदर्शनकारियों ने मीरपुर माथेलो और आदिलपुर सहित आसपास के शहरों में जमकर प्रदर्शन करने के साथ सड़कों को जाम कर दिया और प्र्स्पल के गिरफ्तारी की मांग की है।

यह भी पढ़ें: नहीं सुधरेगा पाकिस्तान: परमाणु युद्ध को लेकर इमरान ने चली नई चाल