नहीं रहे दिग्गज खिलाड़ी: 64 वर्ष कि आयु में ली अंतिम सांस, शोक में डूबा देश

स्वर्ण पदक विजेता कुर्ट थॉमस के निधन की खबर उनके परिजनों ने दी। परिजनों ने बताया कि थॉमस का शुक्रवार को निधन हो गया था। उन्हें 24 मई को मस्तिष्काघात हुआ था।

पूरी दुनिया इस समय वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से जूझ रही है। दुनियाभर के सारे देशों में इस वायरस को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। वर्तमान समय में अमेरिका में इस वायरस का सबसे ज्यादा प्रकोप जारी है। इस बीच अमेरिका से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाले अमेरिका के पहले पुरुष जिम्नास्ट कुर्ट थॉमस का निधन हो गया है। कुर्ट थॉमस 64 वर्ष के थे।

दिमाग कि नस फटने से हुआ निधन

स्वर्ण पदक विजेता कुर्ट थॉमस के निधन की खबर उनके परिजनों ने दी। परिवार वालों ने बताया कि थॉमस का शुक्रवार को निधन हो गया था। उन्हें 24 मई को मस्तिष्काघात हुआ था। तब उनके दिमाग की एक नस फट गयी थी। उनकी पत्नी बैकी थॉमस ने अंतरराष्ट्रीय जिम्नास्ट पत्रिका से कहा कि ‘कल मैंने अपना सबसे अच्छा दोस्त और पिछले 24 वर्षों से अपना हमसफर खो दिया।

ये भी पढ़ें-    बर्बाद हो जाएगा रूस! सड़क पर बहा हजारों टन डीजल, आफत में लोगों की जान

मुझे हमेशा उनकी पत्नी होने पर गर्व रहेगा। थॉमस के निधन से उनके परिवार में शोक है। थॉमस पूरे अमेरिका के लिए एक गौरव थे। उनका जाना पूरे अमेरिका के लिए एक बड़ा झटका है।

1978 में जीता था पहला पदक

ये भी पढ़ें-    दिल्ली में कल से खुलेंगे धार्मिक स्थल, मॉल और रेस्टोरेंट, होटल पर पाबंदी जारी

थॉमस ने 1976 के मांट्रियल ओलंपिक में भाग लेने के बाद 1978 में फ्रांस के स्ट्रासबोर्ग में खेली गई विश्व चैंपियनशिप में फ्लोर एक्सरसाइज में स्वर्ण पदक जीता था। इस तरह से वह जिम्नास्टिक विश्व चैंपियनशिप में सोने का तमगा जीतने वाले पहले अमेरिकी बने थे। इसके बाद उन्होंने 1979 में टेक्सास के फोर्ट वर्थ में खेली गयी विश्व चैंपियनशिप में अपने खिताब का सफलतापूर्वक बचाव किया था। थॉमस का पूरा कैरियर एक जिम्नास्ट के रूप में शानदार रहा। पूरे अमेरिका को उन पर गर्व है।