बौद्ध टेंपल में अब विदेशियों की एंट्री पर रोक, प्रशासन ने इसलिए उठाया कदम

मनोरंजन ट्रैवल के साथ आस्था पर भी कोरोना वायरस संक्रमण औक लॉकडाउन का पूरा असर पड़ा है। इस वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए थाईलैंड में लोगों के आकर्षण का केंद्र बौद्ध मंदिर वाट फो में विदेशियों के प्रवेश पर रोक लगा दिया गया है।

Published by suman Published: June 13, 2020 | 9:44 am

बैंकॉक : मनोरंजन ट्रैवल के साथ आस्था पर भी कोरोना  वायरस संक्रमण और लॉकडाउन का पूरा असर पड़ा है।लेकिन कोरोना की वजह दुनिया के सबसे अधिक शक्तिशाली देश अमेरिका, इग्लैंड, ब्राजील, इटली की हालात खतरे का निशान से बहुत ऊपर हो गए है। जिसे काबू पाना मुश्किल हो गया। इन देशों की हालत देखकर दुनिया के अन्य देश सतर्क होने की कोशिश में लगे। इसी के तहत थाइलैंड में भी कदम उठाए जा रहे हैं। इस वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए थाईलैंड में लोगों के आकर्षण का केंद्र  बौद्ध मंदिर वाट फो में विदेशियों के प्रवेश पर रोक लगा दिया गया है।

 

यह पढ़ें…राज्य में फिर लगाया गया लॉकडाउन! अभी-अभी पूरी तरह लगी पाबंदी, बॉर्डर भी सील

विदेशियों  की नो इंट्री

बैंकॉक में ग्रैंड पैलेस के पास बौद्ध मंदिर वाट फो के मेन गेट पर एक नोटिस लगाया गया है। इस पर लिखा है, ‘‘केवल थाईलैंड के नागरिक ही प्रवेश करें । विदेशियों को प्रवेश की अनुमति नहीं है।’’ वाट फो के एक प्रशासनिक कर्मी ने बताया कि मंदिर कमेटी ने फैसला किया है कि कोविड-19 महामारी के कारण विदेशियों को प्रवेश की अनुमति नहीं है ।  ‘‘कई देशों में संक्रमण फैला हुआ है इसलिए सरकार के निर्देशों के मुताबिक सतर्कता बरती जा रही हैं । हालांकि, मंदिरों में विदेशियों के प्रवेश को रोकने के लिए सरकार ने ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है

 अभी मामला कम

थाईलैंड में कोविड-19 के अपेक्षाकृत कम मामले आए हैं । हाल में विदेश से लौटे थाई नागरिकों में संक्रमण मिला था। देश में कोविड-19 के कुल 3,125 मामले सामने आए और 58 लोगों की मौत हुई ।  बता दें कि यह मंदिर पूरी दुनिया के पर्यटकों में आकर्षण का केंद्र है जहां’ भित्तिचित्रों और सोने से की गई कारीगरी से सुसज्जित दुनिया के बड़े मंदिरों में शामिल इस मंदिर को लेटे हुए बुद्ध भगवान की 151 फुट लंबी मूर्ति है।

 

इन देशों की लापरवाही

यहां की सरकार का मानना है कि  कई देशों में ढील के कारण हालात बेकाबू है, इसलिए हमें सतर्क रहना होगा। जब, लॉकडाउन ब्राजील में  ढील मिली तो लगातार पांचवें दिन 24 घंटे में 30,000 से ज्यादा मामलों की पुष्टि हुई है। देश में कुल संक्रमित 8 लाख पार हो गए हैं जबकि मरने वाले 41 हजार पार हो चुके हैं। रूस में भी पाबंदियां हटाई गई हैं। यहां एक दिन में 8,501 मामले आने के साथ कुल संक्रमित 5.11 लाख पार हो गए हैं जबकि मृतक संख्या 6,715 है।अमेरिका के भी ऐसे ही हालात है तो इस वजह से यह कदम उठाया गया है।

 

यह पढ़ें…कोरोना संक्रमण की रफ्तार में आई तेजी, 10 दिनों में मरीजों में इतना भारी इजाफा

 

ये सच है कि अमेरिका मेक्सिको, रूस, ब्राजील जैसे देशों में जहां लॉकडाउन नियमों में ढील से संक्रमण के मामले भी बढ़े हैं। दुनिया में कोरोना संक्रमितों की संख्या 77 लाख पार कर गई है और मृतक संख्या 4.27 लाख से ज्यादा हो चुकी है। इसी वजह से  थाईलैंड ने  यह कदम उठाया और  मंदिर परिसर में  विदेशियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App