पाकिस्तान की उड़ा रहे थे धज्जियां, तभी बीजेपी नेता के साथ की गई बदसलूकी

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता विजय जॉली को कंबोडिया में एक कांफ्रेंस से बाहर निकाल दिया गया। विजय जॉली को सुरक्षा कर्मचारियों ने कांफ्रेंस हॉल से बाहर निकाला।

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता विजय जॉली को कंबोडिया में एक कांफ्रेंस से बाहर निकाल दिया गया। विजय जॉली को सुरक्षा कर्मचारियों ने कांफ्रेंस हॉल से बाहर निकाला।

दरअसल बीजेपी नेता विजय जॉली पाकिस्तानी स्पीकर कासिम खान सूरी की कश्मीर पर की गई बयानबाजी का विरोध कर रहे थे। बीजेपी नेता के साथ यह बदसलूकी कंबोडिया में चल रहे एशियाई प्रशांत शिखर सम्मेलन 2019 के दौरान की गई है।

यह भी पढ़ें…सरकार-सरकार-सरकार: आखिर कब बनेगी महाराष्ट्र सरकार? चल रहा मीटिंग का दौर

पाकिस्तानी स्पीकर कासिम खान सूरी इस कांफ्रेस में कश्मीर को लेकर झूठे बयान दे रहे थे। इसके बाद विजय जॉली ने सूरी के कश्मीर पर दिए झूठे बयानों पर विरोध जता रहे थे। तभी विजय जॉली को सुरक्षा कर्मचारियों  ने एशियाई प्रशांत शिखर सम्मेलन से बाहर कर दिया।

बता दें कि मंगलवार को भारतीय संसद में भी जम्मू-कश्मीर की स्थिति को हंगामा हुआ। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि नेशनल कांफ्रेंस के नेता और सांसद फारूक अब्दुल्ला को यहां लाया जाए और यह उनका संवैधानिक अधिकार है।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र में सियासी संकट: PM मोदी के बाद RSS प्रमुख मोहन भागवत ने दिया बड़ा बयान

उन्होंने कहा कि हम भी चाहते थे कि जम्मू-कश्मीर जाएं। हमारे नेता राहुल गांधी को एयरपोर्ट पर ही रोक दिया गया। विदेश के लोगों को ले जाया गया वहां दिखाने के लिए कि स्थिति सामान्य है। जम्मू-कश्मीर को खोला जाए।

यह भी पढ़ें…बड़ी खबर! पाक के के पूर्व राष्‍ट्रपति मुशर्रफ फांसी, देशद्रोह के मामले में फैसला सुरक्षित

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की नजरबंदी को विपक्ष ने गैरकानूनी करार देते हुए इस पर गृह मंत्री से जवाब देने की मांग भी की।

गौरतलब है कि कि 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया था।