×

ब्रिटेन के शाही परिवार में दरार,प्रिंस हैरी के फैसले से हर कोई हैरान

महारानी एलिजाबेथ के पोते और ब्रिटेन के प्रिंस हैरी ने अपनी अमेरिकन पत्नी डचेस ऑफ ससेक्स मेगन मर्केल के साथ मिलकर शाही विरासत छोड़ने का फैसला किया है।

Aditya Mishra
Updated on: 12 Jan 2020 10:44 AM GMT
ब्रिटेन के शाही परिवार में दरार,प्रिंस हैरी के फैसले से हर कोई हैरान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लंदन: ब्रिटेन में इन दिनों एक खबर मीडिया की सुर्खियां बनी हुई है। चूंकि यह खबर ब्रिटेन के शाही घराने से जुड़ी हुई है, इसलिए पूरी दुनिया में इस खबर पर चर्चाएं हो रही हैं। खबर है कि ब्रिटेन के शाही घराने में इन दिनों सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है।

प्रिंस हैरी और उनकी पत्नी मेगन मर्केल ने एक ऐसा एलान किया जिसे सुनकर लोग आश्चर्यचकित हैं। प्रिंस और उनकी पत्नी ने शाही पदों से हटने की घोषणा कर पूरे देश को चौंका दिया है।

हालांकि यह घोषणा करके सबको चौंकाने वाले प्रिंस कनाडा का दौरा पूरा करके लंदन लौट आए हैं मगर उनकी पत्नी कनाडा में छुट्टियां मनाकर नॉर्थ अमेरिका लौट गई हैं। उनके भी जल्द लंदन आने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि उनके आने के बाद ये जोड़ा इस मुद्दे पर शाही घराने से बातचीत करेगा।

शाही विरासत छोड़ेंगे प्रिंस हैरी

शाही घराने में जारी विवाद के बाद जानकार सूत्रों का कहना है कि शाही घराने में बिखराव के स्पष्ट संकेत मिल रहे हैं क्योंकि महारानी एलिजाबेथ के पोते और ब्रिटेन के प्रिंस हैरी ने अपनी अमेरिकन पत्नी डचेस ऑफ ससेक्स मेगन मर्केल के साथ मिलकर शाही विरासत छोडऩे का फैसला किया है। प्रिंस हैरी ने कहा कि वह और उनकी पत्नी ब्रिटेन के शाही परिवार के वरिष्ठ सदस्य के पद से अलग हो रहे हैं और अब आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने के लिए काम करेंगे।

प्रिंस हैरी और मेगन ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर साझा बयान जारी कर कहा कि महारानी, कॉमनवेल्थ और सहायकों के प्रति अपना कर्तव्य जारी रखते हुए अब हम यूनाइटेड किंगडम और उत्तरी अमेरिका के बीच अपना समय बिताने की योजना बना रहे हैं। प्रिंस हैरी और मेगन की मई 2018 में शाही शादी हुई थी।

विवाह के बाद दोनों को ससेक्स के ड्यूक और डचेस का खिताब दिया गया था। पिछले साल मई में दंपति की पहली संतान हुई थी जिसका नाम आर्ची हैरिसन माउंटबेटन विंडसर है।

बड़े भाई से भी चल रहा मनमुटाव

पैंतीस वर्षीय हैरी 35 ब्रिटिश राज सिंहासन के लिए छठे नंबर पर हैं। पिछले साल प्रिंस हैरी ने अपने बड़े भाई प्रिंस विलियम से मनमुटाव की बात स्वीकार की थी। मीडिया में यह खबर खूब चर्चा का विषय बनी थी। हैरी और मेगन दोनों के कुछ ब्रिटिश अखबारों से तनावपूर्ण संबंध हैं।

हैरी और मेगन ने बताया कि दोनों मिलकर एक चैरिटी खोलेंगे और आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने की दिशा पर काम करेंगे। जानकारों के मुताबिक अब इस दंपति का कम समय ही ब्रिटेन में बिताने का इरादा है। अब इस दंपति का अधिक समय उत्तर अमेरिका में ही बीतेगा।

इस समय शाही दंपति का खर्च ब्रिटेन के करदाताओं के स्वायत्त कोष द्वारा उठाया जाता है। हैरी के पास कुछ निजी धनराशि है जो उनके लिए उनकी दिवंगत मां डायना छोड़ गई थीं। प्रिंस हैरी को जीवनयापन के लिए अपने पिता प्रिंस चाल्र्स और साथ ही सरकारी कोष से मदद मिलती है।

महारानी चाहती हैं विवाद का निपटारा

शाही घराने में विवाद और बिखराव की बात पिछले साल से ही चर्चा का विषय बनी हुई है। ब्रिटेन के लोगों की आपसी बातचीत के साथ ही सोशल मीडिया पर भी इसे लेकर काफी चर्चा होती रहती है। शाही परिवार से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि इस हालिया घटनाक्रम से पैलेस में हर कोई हैरान है।

महारानी इस विवाद का निपटारा चाहती हैं। उन्होंने महारानी ने इस विवाद का हल निकालने के लिए वरिष्ठ सदस्यों से चर्चा का सुझाव दिया है। महारानी का कहना है कि आपसी बातचीत के जरिए समाधान निकाला जाए और प्रिंस हैरी और मेगन को प्रमुख शाही दायित्वों से मुक्त कर दिया जाए।

प्रिंस की घोषणा से महारानी हैरान

प्रिंस हैरी और मेगन ने अपने फैसले के बारे में एक बयान भी जारी किया है। उनका कहना है कि इस भौगौलिक संतुलन से हम अपने बेटे को शाही परंपरा का सम्मान करते हुए पालने में समक्ष होंगे।

इससे हमारे परिवार को हमारे नए धर्मार्थ संगठन की स्थापना समेत नया अध्याय शुरू करने पर ध्यान केंद्रित करने का समय मिलेगा। वैसे प्रिंस की घोषणा से हैरी की 93 वर्षीय दादी मां महारानी ऐलिजाबेथ को बहुत हैरानी हुई है। दंपति की घोषणा को ऑनलाइन प्लेटफार्म पर मैग्जिट करार दिया गया।

इस घोषणा को अभी शाही महल की मंजूरी नहीं मिली है। शाही महल की ओर से प्रिंस के फैसले पर बयान जारी किया गया है। बयान के मुताबिक डयूक और डचेज आफ ससेक्स के साथ बातचीत शुरूआती चरण में है। हम अलग रास्ता चुनने की उनकी इच्छा को समझते हैं। यह पेचीदा मसला हैं जिसे सुलझाने में समय लगेगा।

वैसे शाही महल प्रिंस की इस घोषणा से हतप्रभ रह गया है। शाही महल को इस बाबत पहले से कोई जानकारी नहीं थी। प्रिंस और उनकी पत्नी ने इस बात का एलान करने से पहले शाही परिवार के किसी वरिष्ठ सदस्य से सलाह-मशविरा तक नहीं किया। प्रिस हैरी के भाई प्रिंस विलियम भी इस फैसले से नाराज बताए गए हैं।

पिछला साल मुश्किल भरा

प्रिंस हैरी और मेगन के लिए पिछला साल काफी मुश्किल भरा रहा था। उस समय दोनों ने एक टेलीविजन डाक्यूमेंट्री में अपनी भूमिकाओं पर मीडिया की रिपोर्टो पर नाराजगी जाहिर की थी और ब्रिटिश टेबलॉयड के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का फैसला किया था। बड़े भाई से प्रिंस हैरी के विवाद को इस बात से ही समझा जा सकता है कि दोनों पिछले दो साल से डचेज आफ कैम्ब्रिज केट मिडलटन के जन्मदिन समारोहों में भी शामिल नहीं हुए हैं। इसके बाद ही शाही परिवार में प्रिंस विलियम और प्रिंस हैरी के बीच अनबन की खबरों को बल मिला।

ये भी पढ़ें...ब्रिटेन में पीएम बोरिस जॉनसन बोले- भारतीय समुदाय से भेदभाव नहीं

प्रिंस हैरी और मेगन के स्टैच्यू को अलग किया

इस बीच दुनियाभर में अहम लोगों के मोम के पुतले रखने वाले मैडम तुसाद म्यूजियम ने प्रिंस हैरी और मेगन के स्टैच्यू को शाही परिवार से अलग कर दिया है। इससे पहले दोनों के पुतले क्वीन एलिजाबेथ, प्रिंस फिलिप, प्रिंस चाल्र्स, प्रिंस विलियम और उनकी पत्नी केट के साथ अलग केबिन में रखे जाते थे। मैडम तुसाद म्यूजियम में इस वक्त दुनियाभर के सेलिब्रिटीज के 250 से भी ज्यादा मोम के पुतले मौजूद हैं।

तुसाद म्यूजियम के मैनेजर के स्टीव डेविस का कहना है कि पूरी दुनिया की तरह हम भी हैरी और मेगन के इस आश्चर्यचकित करने वाले फैसले पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। वे दोनों काफी लोकप्रिय हैं। ऐसे में उन्हें म्यूजियम से बाहर नहीं किया जाएगा। वे यहीं रहेंगे। हालांकि यह देखना होगा कि आगे क्या होता है।

लोगों ने बताया मेग्जिट

प्रिंस हैरी और मेगन के इस फैसले के बाद सोशल मीडिया पर रॉयल फैमिली के इस कदम के चर्चे शुरू हो गए। लोगों ने इसे ब्रेग्जिट की ही तर्ज पर मेग्जिट नाम दे दिया। ट्विटर पर कई लोगों ने इस फैसले का स्वागत किया।

वहीं कुछ लोगों ने उनका मजाक भी बनाया। एक यूजर ने लिखा कि रॉयल फैमिली ऐसे बर्ताव कर रही है, जैसे दोनों ने मैसेज कर के उनसे ब्रेकअप कर लिया। वहीं एक और यूजर ने लिखा कि यह न्यूज रॉयल परिवार पर बम गिराने जैसी थी।

ये भी पढ़ें...दो बच्चों की माँ थी ब्रिटेन की ये प्रिंसेस, पाकिस्तान के डॉक्टर से कर बैठी थी मोहब्बत

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story