UN में कश्मीर पर पाकिस्तान-चीन को तगड़ा झटका, रूस और ब्रिटेन ने साजिश की फेल

कश्‍मीर को लेकर चीन और पाकिस्तान की चाल फेल हो गई है। संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद(UNSC) के कई सदस्‍यों के विरोध के बाद चीन ने कश्‍मीर मामले पर सुरक्षा परिषद में बहस कराने का अपना प्रस्‍ताव वापस ले लिया है।

नई दिल्ली: कश्‍मीर को लेकर चीन और पाकिस्तान की चाल फेल हो गई है। संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद(UNSC) के कई सदस्‍यों के विरोध के बाद चीन ने कश्‍मीर मामले पर सुरक्षा परिषद में बहस कराने का अपना प्रस्‍ताव वापस ले लिया है। UNSC के अन्‍य सदस्‍यों ने भारत का पक्ष लेते हुए कहा कि यह दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय मामला है।

गौरतलब है कि कश्‍मीर के हालात पर चीन ने UNSC में बंद कमरे में चर्चा करने का प्रस्‍ताव रखा था। UNSC के स्थायी सदस्य रूस ने कहा है कि फोरम में इस मुद्दे पर चर्चा नहीं होनी चाहिए। ब्रिटेन ने इस प्रस्‍ताव का विरोध किया है। ब्रिटेन ने इस मामले में पहली बार भारत का खुले तौर पर साथ दिया है।

यह भी पढ़ें…जामिया हिंसा: पूर्व MLA समेत इन नेताओं ने भड़काई हिंसा! पुलिस ने दर्ज की FIR

बता दें कि पाकिस्‍तान के इशारे पर चीन एक बार फिर जम्‍मू-कश्‍मीर मामले को संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में उठाने की कोशिश में जुटा है। चीन यह हरकत ऐसे समय कर रहा है, जब भारत और चीन के बीच सीमा विवाद की अगले चरण की वार्ता होने वाली है।

यह भी पढ़ें…अभी-अभी ताबड़तोड़ गोलीबारी में 12 कैदियों की मौत, मचा हड़कंप

इसके पहले 12 दिसंबर को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने UNSC को एक पत्र लिखा था। इस पत्र में यहां उपजे तनाव पर चिंता व्यक्त की गई थी। UNSC की 16 अगस्त की बैठक का हवाला देते हुए विदेश मंत्री ने पूरी कश्मीरी आबादी पर तीन सप्ताह से जारी लॉकडाउन को तत्काल हटाने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया गया था।

यह भी पढ़ें…इमरान को मलेशिया से यारी पड़ी भारी, सऊदी अरब ने पाकिस्तान को दी बड़ी धमकी

जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल-370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान ने ये मुद्दा UNSC में उठाया था, लेकिन वहां पर उसे मुंह की खानी पड़ी थी। चीन को छोड़कर अन्य किसी भी देश ने पाकिस्तान का कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ नहीं दिया था।