कैसे फैला कोरोना! वुहान का सच आया सामने, डॉक्टर ने बताई चीन के पापों की कहानी

जानलेवा वायरस पहले चीन के वुहान शहर में फैला और धीरे-धीरे पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया। अब इस बीच चीन के एक प्रमुख डॉक्टर ने कोरोना वायरस पर दावा किया है।

Chinese Doctor

Chinese Doctor

नई दिल्ली: कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है। यह जानलेवा वायरस पहले चीन के वुहान शहर में फैला और धीरे-धीरे पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया। अब इस बीच चीन के एक प्रमुख डॉक्टर ने कोरोना वायरस पर दावा किया है।

एक विदेश मीडिया से बातचीत में प्रोफेसर क्वोक युंग युएन ने चीन के पाप की कहानी बताई है। उनका मानना है कि कोरोना शुरू होने पर स्थानीय अधिकारियों ने इस बीमारी के पैमाने को छिपा दिया।

डॉक्टर क्वोक युंग युएन ने शुरुआती दिनों में वुहान में कोरोना की जांच कर रहे थे। उन्होंने बताया कि सभी सबूत मिटा दिए गए। उन्होंने बताया कि उस समय क्लिनिक में जांच की रफ्तार काफी धीमी थी। गौरतलब है कि दिसंबर 2019 के आखिर में ही वुहान में कोरोना के मामले सामने आ चुके थे। हालांकि कई रिपोर्ट में चीन में कोरोना अक्टूबर में ही फैलने का दावा किया जाता है। अमेरिका भी लगातार कोरोना को लेकर चीन पर हमलावार है।

यह भी पढ़ें…अभी-अभी सेना का बदला: पाकिस्तान को दिया तगड़ा जवाब, मार गिराए कई सैनिक

क्वोक युंग युएन ने बताया कि जब हम Huanan के सुपरमार्केट में पहुंचे थे तो वहां पर कुछ भी देखने को नहीं था। उन्होंने बताया कि मार्केट की पहले ही सफाई की जा चुकी थी। इसलिए आप कह सकते हैं कि क्राइम सीन को पहले ही बदला जा चुका था।

यह भी पढ़ें…भारतीय अधिकारी की लिखी इस चिट्ठी की नेपाल में हो रही खूब चर्चा, मीडिया में छाई

चीनी डॉक्टर ने बातचीत में बताया कि सुपरमार्केट को साफ कर दिया गया था, इसलिए हम किसी भी ऐसी चीज की पहचान नहीं कर पाए जिससे वायरस इंसानों में पहुंचा हो। क्वोक युंग युएन ने कहा कि मुझे भी शक है कि वुहान में कोरोना के मामले को छिपाने के लिए उन लोगों ने कुछ साजिश की है।

क्वोक युंग युएन ने ड्रैगन के पापों की परतों को खोलते हुए कहा कि जिन स्थानीय अधिकारियों को जानकारी आगे भेजनी थी उन्होंने इस काम को ठीक से नहीं निभाया।

यह भी पढ़ें…तबाही का मंजर: चारों तरफ सिर्फ पानी ही पानी, बाढ़ में डूबा इंजीनियरिंग कॉलेज

अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों ने चीन पर कोरोना वायरस की जानकारी छिपाने का आरोप लगा चुके हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसे चीनी वायरस भी कहते हैं। लेकिन चीन इन आरोपों को खारिज कर देता है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App