अमेरिका ने कोरोना वायरस को लेकर भारत पर बोला बड़ा हमला, कही ऐसी बात

भारत में बढ़ते कोरोना वायरस के मामले को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हमला बोला है। ट्रंप ने कहा कि भारत कोरोना से अभी भी जूझ रहा है जबकि कोरोना वायरस की महामारी के खिलाफ अमेरिका का प्रदर्शन अच्छा है।

वाशिंगटन: भारत में बढ़ते कोरोना वायरस के मामले को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हमला बोला है। ट्रंप ने कहा कि भारत कोरोना से अभी भी जूझ रहा है जबकि कोरोना वायरस की महामारी के खिलाफ अमेरिका का प्रदर्शन अच्छा है।

ट्रंप ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि चीन में कोरोना वायरस के मामलों में उछाल आया है जबकि भारत कोरोना से लड़ने में तमाम समस्याओं का सामना कर रहा है। बड़े देशों के मुकाबले अमेरिका कोरोना वायरस के खिलाफ ज्यादा अच्छे से लड़ रहा है। ये मत भूलिए कि हम काफी बड़े देश हैं, भारत और चीन को छोड़कर।

राष्ट्रपति ने कहा, मुझे लगता है कि हम बहुत अच्छा कर रहे हैं। हमने दूसरे देशों के मुकाबले कोरोना से ज्यादा बेहतर तरीके लड़ाई लड़ी है।
अगर आप देखेंगे कि पूरी दुनिया में क्या हो रहा है, खासकर जिन देशों की चर्चा हो रही थी, वहां कोरोना के मामले अचानक बढ़ने लगे हैं।

ये भी पढ़ें: अब ऐसे होगी UP के कालेजों में पढ़ाई, परीक्षा के नियमों में भी हुआ बदलाव

भारत में कोरोना वायरस से अब तक 18 लाख

भारत में कोरोना वायरस से अब तक 18 लाख से ऊपर लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि एक दिन में 52,000 के करीब नए मामले सामने आए हैं। वहीं, चीन में सोमवार को कोरोना संक्रमण के 36 नए मामले सामने आए हैं। चीन में 29 जुलाई को कोरोना संक्रमण के कुल मामले 100 के पार पहुंच गए थे।

ट्रंप ने कहा, कोरोना ऐसी महामारी है जो बार-बार लौटकर आ रही है। मैंने कल शाम को न्यूज पर इस बात को गौर किया। मैं कभी दूसरे देशों के बारे में नहीं पढ़ता।

हालांकि, जो देश सोच रहे थे कि उन्होंने कोरोना पर नियंत्रण पा लिया है, वहां फिर से कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने लगा है। हमें भी फ्लोरिडा में यही लगा था लेकिन वहां फिर से कोरोना वापस आ गया।

अमेरिका कोरोना वायरस महामारी से सबसे बुरी तरह प्रभावित देश है। अमेरिका में कोरोना संक्रमण के 47 लाख मामले और 155,000 मौतें हो चुकी हैं। ट्रंप अब दूसरे देशों से तुलना करके अपनी सरकार की पीठ थपथपा रहे हैं।

6 करोड़ लोगों का कोरोना टेस्ट कर चुके हैं: अमेरिका

ट्रंप ने कहा कि अमेरिका ने 6 करोड़ लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का टेस्ट किया है। उन्होंने कहा, कोई भी देश इसके आस-पास भी नहीं है। हम 6 करोड़ लोगों का कोरोना टेस्ट कर चुके हैं। अब हम रैपिड टेस्ट भी कर रहे हैं जिनमें तुरंत रिजल्ट आ जाता है। मुझे लगता है कि हम बहुत अच्छा काम कर रहे हैं।

अमेरिका में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अच्छी प्रगति देखने को मिल रही है। पूरे देश में पिछले सप्ताह के मुकाबले कोरोना संक्रमण के नए मामलों में 6 फीसदी की गिरावट आई है और पॉजिटिव रेट भी 8।7 फीसदी के मुकाबले 8 फीसदी पर आकर रुका है।

ट्रंप ने कहा, दुनिया के कई ऐसे देश हैं जहां कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर से बढ़ने लगे हैं। कुछ देशों को लेकर हमें लग रहा था कि उन्होंने शानदार काम करके महामारी पर रोकथाम कर ली है लेकिन हमारी धारणा गलत साबित हुई। ये वायरस एक नजर ना आने वाले बड़ा दुश्मन है।

लॉकडाउन से भविष्य में भी संक्रमण नहीं रोका जा सकता है। लॉकडाउन का सिर्फ एक ही मकसद होता है कि हॉस्पिटल की सुविधाएं बढ़ाने और बीमारी को समझने के लिए थोड़ा वक्त मिल जाए और इसके साथ ही असरदार इलाज को खोजा जा सके।

ये भी पढ़ें: राजस्थान की सियासत: वसुंधरा का करीबी अफसर करेगा ऑडियो मामले की जांच

हम वैक्सीन के मोर्चे पर अच्छा कर रहे हैं: अमेरिका

कोरोना की वैक्सीन को लेकर ट्रंप ने कहा, हम वैक्सीन के मोर्चे पर अच्छा कर रहे हैं। स्पेन, जर्मनी, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया और जापान में पिछले कुछ वक्त में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़े हैं।

वर्तमान में हमें कोरोना के सबसे ज्यादा खतरे में आने वाले लोगों की सुरक्षा पर ध्यान देना होगा जबकि स्वस्थ और युवा सावधानी के साथ कामकाज पर जा सकते हैं।

बता दें कि ट्रंप ने कुछ दिन पहले ही प्रदूषण को लेकर भारत पर निशाना साधा था। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा था कि भारत, चीन और रूस को अपनी हवा को लेकर कोई चिंता नहीं है जबकि अमेरिका अपने देश की हवा की परवाह करता है। ट्रंप इससे पहले भी प्रदूषण और कचरे को लेकर भारत की तीखी आलोचना कर चुके हैं।

ये भी पढ़ें: नियमित टीकाकरण में इस बीमारी की वैक्सीन भी शामिल, जानें क्यों हुआ ऐसा फैसला

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App