जापान के नए सम्राट से मिलने वाले दुनिया के पहले विदेशी नेता बने ‘डोनाल्ड ट्रम्प’

इम्पीरियल पैलेस में एक समारोह के दौरान ट्रम्प ने सम्राट नारुहितो और उनकी पत्नी के साथ गर्मजोशी से हाथ मिलाया। बता दें कि नारुहितो को आधिकारिक रूप से इसी साल एक मई को जापान का सम्राट बनाया गया था। इससे पहले जापान के सम्राट अकिहितो थे।

नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प जापान दौरे पर है। इस दौरान उन्होंने सोमवार (27 मई) को जापान के नए सम्राट और उनकी पत्नी से मुलाकात की है। इसके बाद ट्रम्प दुनिया के पहले ऐसे विदेशी नेता बन गए हैं, जिन्होंने सबसे पहले किसी विदेशी नेता के तौर पर सम्राट से मुलाकात की है।

यह भी देखें… जानिए क्यों पश्चिम बंगाल सरकार ने 11 आईपीएस अधिकारियों को फिर से किया बहाल

इम्पीरियल पैलेस में एक समारोह के दौरान ट्रम्प ने सम्राट नारुहितो और उनकी पत्नी के साथ गर्मजोशी से हाथ मिलाया। बता दें कि नारुहितो को आधिकारिक रूप से इसी साल एक मई को जापान का सम्राट बनाया गया था। इससे पहले जापान के सम्राट अकिहितो थे।

200 साल में ऐसा पहली बार हुआ था कि दुनिया के सबसे पुराने राज परिवार में किसी सम्राट ने अपना पद राजी-खुशी छोड़ था। अकिहितो ने अपना ‘क्राइसैंथिमम थ्रोन’ अपने सबसे बड़े बेटे युवराज नारुहितो (59) को सौंपा। नारुहितो ने एक समारोह में सम्राट का पद ग्रहण किया था। इसके साथ ही ‘रेइवा’ नामक नए राजशाही युग की शुरुआत हो गई थी। यह युग नारुहितो के पूरे शासनकाल तक जारी रहेगा।

सम्राट बनने के बाद नारुहितो ने जापान की जनता को संबोधित किया था। साथ ही साथ विश्व में शांति के लिए प्रार्थना की और देश की जनता को भरोसा दिलाया था कि वह हमेशा उनके साथ खड़े रहेंगे।

यह भी देखें… ब्राजील की जेल में कैदियों के बीच झड़प, 15 की मौत

उन्होंने अपने पहले संबोधन में कहा था कि मैं संविधान के अनुरूप काम करूंगा। मेरे विचार सदैव मेरे लोगों के लिए होंगे और मैं हमेशा उनके साथ खड़ा रहूंगा। उनके कामों में उनके पिता आकिहितो की झलक दिखाई देगी।