×

चीन को अमेरिका से इस मामले में लगा था झटका, अब ट्रंप ने दिया ये बयान

अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड डील खत्म होने की खबरों के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया है कि चीन के साथ शुरुआती व्यापार समझौता अभी बरकरार है।

Shreya
Updated on: 23 Jun 2020 9:23 AM GMT
चीन को अमेरिका से इस मामले में लगा था झटका, अब ट्रंप ने दिया ये बयान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

वाशिंगटन: अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड डील खत्म होने की खबरों के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया है कि चीन के साथ शुरुआती व्यापार समझौता अभी बरकरार है। हालांकि व्हाइट हाउस के ट्रेड एडवाइजर पीटर नेवेरो के बयान से ऐसा मालूम हो रहा था कि अब दोनों देशों के बीच अब इस समझौते का कोई मतलब नहीं है। इस खबर के बाद दुनियाभर के शेयर बाजारों में भारी गिरावट देखने को मिली। हालांकि अब ट्रंप ने ये साफ कर दिया है कि दोनों के बीच समझौता बरकरार है।

यह भी पढ़ें: दिव्यकांत शुक्ला बने यूपी बोर्ड के ओएसडी, होंगे यूपी बोर्ड के कार्यवाहक सचिव

चीन के साथ व्यापार समझौता पूरी तरह से बरकरार

ट्रंप ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'चीन के साथ व्यापार समझौता पूरी तरह से बरकरार है। उम्मीद है कि वह इस समझौते की शर्तों को निभायेंगे।‘ गौरतलब है कि इससे पहले व्हाइट हाउस के ट्रेड एडवाइजर पीटर नेवेरो ने एक बयान जारी करते हुए कहा था कि अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड डील खत्म हो गई है। जब उनसे इस समझौते के बारे में पूछा गया था तो उनका जवाब था कि यह खत्म हो चुका है।



यह भी पढ़ें: अभी-अभी हुआ इस्तीफा: लालू के करीबी ने छोड़ा साथ, पार्टी में मची हलचल

कई क्षेत्रों में सहयोग को लेकर बढ़ने लगे थे संदेह

बता दें कि कोरोना वायरस महामारी के चलते अमेरिका लगातार चीन पर हमलावर है। अमेरिकी राष्ट्रपति लगातार चीन के खिलाफ कोरोना वायरस को फैलने का आरोप लगाते रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा था कि चीन ने ही इस वायरस को फैलाया है और इस बात का सबूत भी है। इस वजह से दोनों देशों के बीच व्यापार समेत विभिन्न क्षेत्रों में आगे सहयोग को लेकर संदेह बढ़ गया था।

यह भी पढ़ें: मायावती ने जमकर घेरा सरकार को, महिला सुरक्षा पर कही ये बड़ी बात

नेवेरो ने पेश की सफाई

हालांकि बाद में पीटर नेवेरो ने कहा कि उनके बयान का गलत संदर्भ निकाला गया है। उनकी टिप्पणी का व्यापार समझौते से कोई लेना देना नहीं है। बता दें कि दोनों देशों के इस साल की शुरुआत में इससे जुड़ी डील के पहले चरण पर हस्ताक्षर हुए थे। ये पहल अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वॉर को खत्म करने के लिए था।

यह भी पढ़ें: झुका ड्रैगनः काम आई कूटनीति, पूर्वी लद्दाख से अपने सैनिक हटाने पर हुआ राजी

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Shreya

Shreya

Next Story