LAC पर 20 हजार सौनिकों की तैनाती, पाकिस्तान का ये बड़ा झूठ आया सामने

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने ट्वीट कर कहा कि “भारतीय मीडिया और सोशल मीडिया पर इस तरह के दावे हैं कि पाकिस्तान ने गिलगिट बाल्तिस्तान में एलओसी के पास अतिरिक्त जवान भेजे हैं।

नई दिल्ली: लगभग दो महीने से भारत-चीन का विवाद गलवान घाटी में चल रहा है। दोनों देशों के बीच सैनिक झड़प भी हुई। लेकिन इन सब घटनाओं को लेकर हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान का कुछ अलग ही बयान है। उसका कहना है कि गिलगिट-बाल्टिस्तान में एलओसी के नजदीक 20 हजार सैनिकों की तैनाती की खबर को अब गलत बता रहा है।

पाकिस्तान सेना ने गुरुवार को गिलगिट-बाल्टिस्तान में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के किनारे अतिरिक्त बलों की आवाजाही की खबरों का खंडन किया है। यहां तक पाकिस्तान में चीनी सैनिकों की मौजूदगी से भी पाकिस्तान ने इनकार किया है।

स्कार्दू एयरबेस को चीनी सैनिक इस्तेमाल कर रहे हैं

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने ट्वीट कर कहा कि “भारतीय मीडिया और सोशल मीडिया पर इस तरह के दावे हैं कि पाकिस्तान ने गिलगिट बाल्तिस्तान में एलओसी के पास अतिरिक्त जवान भेजे हैं। ऐसा भी दावा है कि स्कार्दू एयरबेस को चीनी सैनिक इस्तेमाल कर रहे हैं। यह सब बातें फर्जी हैं।” प्रवक्ता ने अपने बयान में यह भी कहा कि इस तरह की कोई अतिरिक्त सेना वहां नहीं भेजी गई है। चीनी सेना की पाकिस्तान में मौजूदगी से भी इनकार किया गया है।

ये भी देखें: इन गलतफहमियों से GIRLS की सेक्सुअल लाइफ होती है बर्बाद, जानें इससे जुड़ी ये बात

चीन ने पूर्व में एलएसी के पास भी सेना की संख्या बढ़ाई

एक समाचार पत्र से पता चला कि पाकिस्तान ने एलओसी पर लगभग 20,000 अतिरिक्त सैनिकों को तैनात किया है। इस बात का भी जिक्र था कि चीन ने पूर्व में एलएसी के पास भी सेना की संख्या बढ़ाई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान द्वारा तैनात सैनिकों का स्तर बालकोट हवाई हमले के बाद की तुलना में अधिक है। पाकिस्तानी राडार को इस क्षेत्र में भी पूरी तरह से सक्रिय माना जाता है।

पिछले कई दिनों से भारत-चीन के बीच जो भी विवाद लद्दाख में हुए हैं, मौका देखते हुए पाकिस्तान इसका फायदा उठाने की कोशिश में है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उसने गिलगिट-बाल्टिस्तान में एलओसी के नजदीक सेना की दो डिविजनों को भी तैनात किया है। यह भी माना जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना एलओसी के नजदीक लगभग 20 हजार सैनिकों की तैनात कर भारत पर दबाव बनाने की कोशिश कर रही है। आशंका यह भी जताई जा रही है कि पाक ऐसी हरकतें चीन के इशारों पर कर रहा है।