चीन ने भारत से युद्ध के लिए उतारे 60 हजार सैनिक, आमने-सामने खड़ी हुई दोनों सेनाएं

जब ऑस्ट्रेलिया ने कहा कि चीन को वुहान से आए कोरोना वायरस को लेकर जांच करनी चाहिए, तो चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने उसे धमकाया और डराने की कोशिश की। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी सभी के लिए खतरा है।

China Force

हवाई जहाज से उतरते चीन के सैनिक(फोटो:सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच सीमा विवाद का मसला तूल पकड़ने लगा है। दोनों देशों के बीच उच्च स्तर पर कई बार वार्ताएं भी हुई लेकिन सभी बेनतीजा ही रही। दोनों में से कोई भी देश अपनी सेना को पीछे बुलाने के लिए तैयार नहीं है।

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल(एलएएसी) पर मई के महीने से ही तनाव बना हुआ है। अभी जिस तरह के हालात सीमा पर हैं। उसे देखते हुए युद्ध की बात से इनकार नहीं किया जा सकता है।

अब भारत और चीन के बीच बढ़ते तनाव को लेकर अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो का ताजा बयान सामने आया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि चीन ने भारत से लगती उत्तरी सीमा पर 60 हजार सैनिक तैनात किए हैं।

पोम्पियो ने सीमा पर तनाव को लेकर चीन के व्यवहार पर उसे जमकर खरी खोटी सुनाई है। उन्होंने ये भी कहा कि बीजिंग क्वाड देशों के लिए खतरा बन गया है।

Myke Pompio
माइक पोम्पियो की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ेंः कोरोना पर चीन का बड़ा खुलासा: पहली बार बताई ये बात, जानकर हो जाएंगे हैरान

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने ऑस्ट्रेलिया को धमकाया

उन्होंने बताया कि जब ऑस्ट्रेलिया ने कहा कि चीन को वुहान से आए कोरोना वायरस को लेकर जांच करनी चाहिए, तो चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने उसे धमकाया और डराने की कोशिश की। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी सभी के लिए खतरा है।

पोम्पियो ने आगे कहा, मैं भारत, ऑस्ट्रेलिया, और जापान के साथ खड़ा हूं। मैं क्वाड की बैठक में भाग लेने गया था। यह एक ऐसा प्रारूप है, जिसमें बड़े लोकतंत्र और शक्तिशाली अर्थव्यवस्थाओं वाले चार देश स्म्म्लिलित हैं। जिसमें से हर एक राष्ट्र को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा खतरे का अंदेशा है।

उन्होंने ये भी कहा कि भारत का हिमालय की पहाड़ियों में चीनी सेना के साथ टकराव हुआ, जहां दोनों देशों की सेनाओं के बीच तीखी झड़प भी हुई।

China Army
चीन के सैनिकों की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें- अब ये शिक्षा मंत्री हुए कोरोना संक्रमितः अस्पताल में एडमिट हैं जगरनाथ महतो

चीन ने भारत से सटी हुई सीमा पर उतारे 60 हजार जवान

जिसके बाद से चीन ने अब भारत के साथ सटी हुई सीमा पर बड़ी संख्या में जवानों को तैनात करने का काम शुरू कर दिया है। चीनी सेना की तरफ से 60 हजार जवानों को सीमा पर युद्ध के खतरे के मद्देनजर तैनात किया गया है।

बता दें कि भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया क्वाड समूह में शामिल है। हिंद-प्रशांत देशों के विदेश मंत्रियों को क्वाड समूह के रूप में जाना जाता है। मंगलवार को इन देशों के विदेश मंत्रियों ने जापान की राजधानी टोक्यो में एक साथ बैठक की।

बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस महामारी के शुरू होने के बाद यह विदेश मंत्रियों की पहली भेंट थी। इस बैठक में हिंद-प्रशांत, दक्षिण चीन सागर में चीन के आक्रामक सैन्य रवैये और पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत और चीन के बीच तनाव के विषय पर विदेश मंत्रियों ने चर्चा की।

ये भी पढ़ें- अक्षय की लक्ष्मीबॉम्ब : बायकॉट के डर से हटाया लाइक्स-डिस्लाइक, उठ रहे सवाल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App