सुलेमानी की अंतिम विदाई में रोया पूरा ईरान, बेटी का बड़ा ऐलान, अमेरिका में हड़कंप

अमेरिका के हमले में मारे गए मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की ईरान की राजधानी तेहरान में सोमवार को अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान भीड़ का हुजूम उमड़ पड़ा। इस दौरान अमेरिका के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई और लोगों ने बदला लेने की मांग की।

नई दिल्ली: अमेरिका के हमले में मारे गए मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की ईरान की राजधानी तेहरान में सोमवार को अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान भीड़ का हुजूम उमड़ पड़ा। इस दौरान अमेरिका के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई और लोगों ने बदला लेने की मांग की।

गौरतलब है कि शुक्रवार को अमेरिकी स्ट्राइक में ईरान की कुद्स फोर्स के मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या कर दी गई थी जिसके बाद से ही ईरान और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ गया है। ईरान के सर्वोच्च नेता अयोतुल्लाह खमनेई की मौजूदगी में जनाजे की नमाज अदा की गई। सुलेमानी के उत्तराधिकारी इस्माइल घानी खमनेई के बगल में खड़े रहे। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी व अन्य बड़े नेता भी सुलेमानी को श्रद्धांजलि दी।

यह भी पढ़ें…दिल्ली विधानसभा चुनाव की तारीख का ऐलान: 8 फरवरी को वोटिंग और 11 को नतीजे

इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए सुलेमानी की बेटी जैनब सुलेमानी ने कहा कि उनके पिता की मौत अमेरिका के लिए बहुत बुरे दिन लाएगी। जैनब ने कहा कि क्रेजी ट्रंप, ये मत सोचिए कि मेरी पिता की शहादत के साथ सब कुछ खत्म हो गया है। खमनेई ने जनाजे की नमाज अदा की और रोते हुए दिखे।

हमास के नेता इस्माइल हनियाह ने ईरानियों को संबोधित करते हुए सुलेमानी को ‘जेरुसलम का शहीद’ करार दिया। इस्माइल ने इसके साथ प्रतिज्ञा ली कि फिलिस्तीन संगठन सुलेमानी की दिखाई राह पर चलेंगे और अमेरिकी प्रभाव को खत्म करने की कोशिश करेंगे।

यह भी पढ़ें…केजरीवाल ने अपने स्वार्थ के लिए गरीबों को लाभ नहीं मिलने दिया-अमित शाह

ईरान के सर्वोच्च नेता को इस तरह से भावुक होते हुए बहुत कम ही देखा गया है। ईरान के सभी उच्चाधिकारियों और नेताओं में तीव्र भावनाएं देखने को मिल रही हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है, सुलेमानी को जिस तरह से मारा गया है, उससे ईरानी बहुत गुस्से में हैं… उन्हें लगता है कि यह बहुत ही अन्यायपूर्ण था। तेहरान की सड़कें लोगों से इतनी भर गई थीं कि लोग अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों से बाहर तक नहीं निकल पा रहे थे।

तो वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को चेतावनी दी कि अगर ईरान ने अपने मेजर जनरल का बदला लेने की कोशिश की तो वह ईरान की सांस्कृतिक ठिकानों को तबाह कर देंगे।