खतरे में ये महिला सांसद: देश छोड़ने की मिली धमकी, घर पर हुआ हमला

नेपाल की महिला सांसद सरिता गिरि पर हमला हुआ है। हमला उनके घर पर किया गया, वहीं काले झंडे दिखा कर उन्हें देश छोड़ने की धमकी दी गयी।

नई दिल्ली: नेपाल की महिला सांसद सरिता गिरि पर हमला हुआ है। हमला उनके घर पर किया गया, वहीं काले झंडे दिखा कर उन्हें देश छोड़ने की धमकी दी गयी। सांसद ने इस बारे में पुलिस को सूचना दी लेकिन पुलिस उनकी मदद के लिए नहीं आई वहीं उनकी पार्टी ने भी मदद से इनकार कर दिया। बता दें कि सांसद सरिता गिरि ने नेपाल सरकार के नक्शा प्रस्ताव का विरोध था।

सांसद सरिता गिरी ने किया सरकार के नक्शा प्रस्ताव का विरोध

दरअसल, नेपाल की संसद में दो दिन पहले प्रतिनिधि सभा के दौरान देश नक्शे में बदलाव और नए नक्शे को संविधान का हिस्सा बनाने के लिए संविधान संशोधन बिल पास कराया गया। इस संशोधन जनता समाजवादी पार्टी की सांसद सरिता गिरि ने विरोध किया और अपना अलग से संशोधन प्रस्ताव डाला था।

पार्टी ने प्रस्ताव वापस न लेने पर पार्टी से निकालने की दी धमकी

मामले में उनकी पार्टी ने तुरंत संशोधन प्रस्ताव वापस लेने के निर्देश दिए और ऐसा न करने पर पार्टी से निलंबित करने की धमकी भी दी थी। इसके अलावा देश में भी उनका भारी विरोध शुरु हो गया और उन्होंने देश छोड़ने की धमकियां मिलने लगी।

ये भी पढ़ें- बर्थडे स्पेशल: लालू सत्ता से आउट मगर सियासत से नहीं, विरोधी भी नहीं कर पाते खारिज

इसलिए सरिता गिरी कर रहीं नेपाल सरकार के प्रस्ताव का विरोध

नेपाल सरकार के नक्शा प्रस्ताव को ख़ारिज करने की मांग कर रहीं सांसद सरिता गिरी का आरोप है कि नेपाल नक्शे में बदलवाव चीन के इशारे पर करना चाहता हैं। उन्होंने दावा किया कि देश के लोग नहीं चाहते हैं कि नक्शे को लेकर भारत-नेपाल में विवाद हो। उन्होंने ये भी स्पष्ट किया कि नए नक्शे को लागू करने से पहले भारत और चीन संग नेपाल को बातचीत करनी चाहिए।

नक्शा प्रस्ताव को सभी पार्टियों का समर्थन

गौरतलब है कि भारत के पक्ष में रहने वाली मधेशी पार्टी ने भी नक़्शा प्रस्ताव का विरोध नहीं किया। वहीं सभी दलों ने प्रस्ताव को समर्थन दिया। प्रमुख प्रतिपक्षी दल नेपाली कांग्रेस पहले ही इस प्रस्ताव को समर्थन दे चुके हैं। सरिता पहली ऐसी सांसद हैं, जिन्होंने अपनी पार्टी और अन्य दलों के खिलाफ नक्शा प्रस्ताव को ख़ारिज करने की मांग की।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App