अलकायदा पर अमेरिका का बड़ा दावा, आतंकियों से सुरक्षित भारत का ये क्षेत्र

अमेरिका (America) ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिबंधित अलकायदा (Al-Qaida) इन इंडियन सब कांटिनेंट (एक्यूआईएस) अब संभवत केवल छोटे पैमाने पर स्थानीय हमले करने में ही सक्षम है।

Published by Shreya Published: September 25, 2020 | 7:29 pm
Al-Qaida

भारतीय उपमहाद्वीप में बड़े हमले नहीं कर सकता Al-Qaida (फोटो- सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: अमेरिका (America) के आतंकवाद निरोधक केंद्र के निदेशक ने सीनेट (Senate) की एक समिति में बताया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिबंधित अलकायदा (Al-Qaida) अब संभवत केवल छोटे पैमाने पर स्थानीय हमले करने में ही सक्षम है। उनका कहना है कि अल कायदा अब केवल छोटे पैमाने पर ही सक्रिय है।

गौरतलब है कि भारतीय उपमहाद्वीप (Indian Subcontinent) में अलकायदा (Al-Qaida) की गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए इस संगठन के प्रमुख अयमान अल जवाहिरी ने साल 2014 में AQIS की स्थापना की थी। अलकायदा सरगना का मकसद क्षेत्र में अपने आतंकी गिरोह के प्रभाव का विस्तार करना था।

छोटे स्तर पर क्षेत्रीय हमले करने में ही सक्षम है अलकायदा

नेशनल काउंटर टेरोरिज्म सेंटर (National Counter Terrorism Center) के निदेशक क्रिस्टोफर मिलर (Christopher C. Miller) ने सीनेट कमेटी से गुरुवार को कहा कि दक्षिण एशिया में भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा (एक्यूआइएस) ने साल 2019 में अमेरिकी कार्रवाई के दौरान अपने सरगना आसिम उमर के अफगानिस्तान में मारे जाने के बाद एकजुट होने के लिए संघर्ष किया। एक्यूआईएस अब दोबारा उबरने की कोशिश कर रहा है और संभवत: छोटे स्तर पर क्षेत्रीय हमले करने में ही सक्षम है।

यह भी पढ़ें: गावस्कर का अनुष्का को जवाब, कुछ गलत नहीं कहा, प्रैक्टिस की थी बात

अमेरिका-तालिबान समझौते की प्रशंसा

वहीं अमेरिका के आंतरिक सुरक्षा पर खतरे को लेकर सीनेट की समिति के समक्ष बयान देते हुए मिलर ने कहा कि मार्च के बीच में अल कायदा ने अमेरिका-तालिबान समझौते की प्रशंसा करते हुए नवाई अफगान जिहाद का एक Edition प्रकाशित किया था। जो कि एग्रीमेंट पर अलकायदा नेताओं के रुख को प्रतिबिंबित करता है।

यह भी पढ़ें: मेट्रो स्टेशन पर पैसों से भरा बैग: देख लोगों के उड़े होश, मिली नोटों की इतनी गड्डियां

अमेरिका ने कम किया आतंकवादी गतिविधी

मिलर का कहना है कि आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक लड़ाई लगभग दो दशक पहले शुरू हुई थी, इसलिए अमेरिका ने उल्लेखनीय रूप से आतंकवादी गतिविधियों को काफी कम कर दिया है। उन्होंने कहा कि अमेरिका और हमारे सहयोगियों को आतंकियों की पहुंच से काफी सुरक्षित किया है। इसके साथ ही मिलर ने कहा कि वर्तमान दौर का आतंकवाद अमेरिका के लिए काफी खतरनाक है।

यह भी पढ़ें: CM के उद्घाटन कार्यक्रम में छाया चुनाव, ब्राह्मण-निषाद वोट बैंक पर दिखा फोकस

व्यक्तियों को हमले के लिए करना चाहता है प्रेरित

उन्होंने कहा कि पिछले साल के मुकाबले अल-कायदा के नेताओं का प्रसार तेज कर दिया गया है। उनका कहना है कि अब अल कायदा अमेरिका और पश्चिम में हमले करने के लिए व्यक्तियों को प्रेरित करना चाहता है। अल कायदा का अमेरिका में हमलों को प्रोत्साहित करने में रुचि रखना जारी है।

यह भी पढ़ें: ‘आप’ ने किया किसान आंदोलन का समर्थन, कृषि कानून को बताया काला कानून

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App