न्यूजीलैंड हमला : लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग के नियमों को फेसबुक ने किया सख्त

चीफ ऑपरेटिंग अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग ने एक ऑनलाइन पोस्ट में कहा कि कई लोगों ने सही सवाल उठाया कि फेसबुक जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल हमले की भयानक वीडियो का प्रसार करने में कैसे किया गया।

सैन फ्रांसिस्को: फेसबुक ने शुक्रवार को कहा कि वह न्यूजीलैंड में मस्जिदों पर हुए हमले के प्रसारण के लिए उसकी लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग सेवा का इस्तेमाल किए जाने के मद्देनजर इस सेवा के नियमों को कड़ा बना रहा है।

एक श्वेतवादी हमलावर ने क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों पर हमला किया था जिसमें 50 लोगों की मौत हो गई।

ये भी देखें :स्लोवाकिया में शनिवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए किया गया मतदान

चीफ ऑपरेटिंग अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग ने एक ऑनलाइन पोस्ट में कहा कि कई लोगों ने सही सवाल उठाया कि फेसबुक जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल हमले की भयानक वीडियो का प्रसार करने में कैसे किया गया।

उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवादी हमले के मद्देनजर हम तीन कदम उठा रहे हैं : फेसबुक लाइव इस्तेमाल करने के नियमों को कड़ा बना रहे हैं, हमारे प्लेटफॉर्म पर नफरत फैलाने से रोकने के लिए और कदम उठा रहे हैं तथा न्यूजीलैंड समुदाय का समर्थन कर रहे हैं।’’

ये भी देखें :टर्की में आज हिंदुस्तान के लिए फ़ाइनल बैडमिंटन मैच खेलेंगे IAS सुहाल एल वाई

सैंडबर्ग के अनुसार फेसबुक अपने लाइवस्ट्रीमिंग के मानदंडों का पूर्व में उल्लंघन कर चुके लोगों को इस सेवा के इस्तेमाल से रोकने पर विचार कर रहा है।

सोशल नेटवर्क ऐसे सॉफ्टवेयर में भी निवेश कर रहा है जो हिंसक वीडियो या तस्वीरों के संपादित संस्करण को साझा करने या री-पोस्ट करने से रोकने के लिए तुरंत उनकी पहचान कर सकें।

एएफपी गोला सिम्मी सिम्मी 3003 0953 सैनफ्रांसिस्को

(भाषा)

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App