उत्तर कोरिया का अमेरिका को करारा जवाब, परमाणु वार्ता से किया इनकार

उत्तर कोरिया ने अमेरिका से अपने रुख में बदलाव करने को कहा था। शनिवार को उत्तर कोरिया ने अमेरिका के साथ परमाणु समझौता वार्ता को रद्द कर दिया। उत्तर कोरिया ने  अमेरिका पर आरोप लगाया कि वह घरेलू राजनीतिक एजेंडा पूरा करने के लिए वार्ता को समय बचाने की तरह-तरह की तरकीब इस्तेमाल कर रहा है।

Published by suman Published: December 8, 2019 | 11:28 am

उत्तर कोरिया ने अमेरिका से अपने रुख में बदलाव करने को कहा था। शनिवार को उत्तर कोरिया ने अमेरिका के साथ परमाणु समझौता वार्ता को रद्द कर दिया। उत्तर कोरिया ने  अमेरिका पर आरोप लगाया कि वह घरेलू राजनीतिक एजेंडा पूरा करने के लिए वार्ता को समय बचाने की तरह-तरह की तरकीब इस्तेमाल कर रहा है। वहीं एक न्यूज एजेंसी के हवाले  से खबर है उत्तर कोरिया ने इस वार्ता के रद्द होने के बाद सैटेलाइट लॉन्चिंग स्टेशन सोहाए में एक परीक्षण भी किया है।

हालांकि इस बारे में अधिक जानकारी नहीं है। पहले परमाणु समझौता वार्ता को रद्द किए जाने को लेकर उत्तर कोरिया के राजदूत किम सोंग ने एक बयान में कहा, ‘अब हमें अमेरिका के साथ लंबी बातचीत करने की जरूरत नहीं है और परमाणु मुक्त का मुद्दा पहले ही खारिज किया जा चुका है।’ उन्होंने कहा कि अमेरिका द्वारा किया गया सतत और पर्याप्त संवाद उनके घरेलू राजनीतिक एजेंडे को पूरा करने के लिए महज एक चाल थी।’

यह पढ़ें….दिल्ली अग्निकांड : अधूरी सूचना और संकरी गलियों के कारण मृतकों की संख्या बढ़ी

इसके साथ ही उत्तर कोरिया ने अपने ऊपर लगे प्रतिबंधों को हटाने की मांग और चेतावनी दी कि ऐसा न होने पर वह अलग रास्ता चुन कर सकते हैं। उत्तर कोरिया ने कहा कि अगर प्रतिबंध नहीं हटते हैं तो वह दोबारा न्यूक्लियर और लंबी दूरी की मिसाइलों का परीक्षण शुरू होगा। जो 2017 से बंद हैं।  फरवरी में हनोई में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया प्रमुख किम जोंग उन के बीच परमाणु समझौते को लेकर हुई वार्ता भी असफल रही थी। तब से लेकर अब तक यह समझौता अधर में ही लटका था।

यह पढ़ें…Notebook Celebration | Virat Kohli ने चुकाया पुराना हिसाब, मैदान पर किया कुछ ऐसा

र कोरिया और अमेरिका के बीच एक बार फिर तकरार बढ़ गई है। अपने शासक किम जोंग उन को ‘रॉकेटमैन’ कहने पर उत्तर कोरिया अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर बुरी तरह भड़क गया। उत्तर कोरिया ने कहा कि अगर अमेरिकी राष्ट्रपति इसी तरह उकसाने वाली बयानबाजी करते रहेंगे तो उनका फिर से अपमान करते हुए उन्हें ‘सठियाया’ हुआ कहा जाता रहेगा। उत्तर कोरिया की प्रथम उप विदेश मंत्री चोई सोन-होई ने उत्तर कोरिया के खिलाफ संभावित सैन्य कार्रवाई के ट्रंप के बयान और किम को रॉकेटमैन के नाम से पुकारने के बदले यह चेतावनी दी थी।