×

रैली में हिंसक झड़प: मुस्लिम लगा रहे थे नारे, अचानक होने लगा हमला

नॉर्वे की राजधानी ओस्लो में हिंसक झड़प को लेकर बड़ी खबर आ रही है। शनिवार को एक इस्लाम विरोधी रैली के चलते हिंसक लड़ाई हो गई। इसे हिंसक घटना की वजह से अधिकारी सतर्क हो गए और उन्होंने जल्द ही इस रैली को समाप्त कर दिया।

Newstrack
Updated on: 30 Aug 2020 11:16 AM GMT
रैली में हिंसक झड़प: मुस्लिम लगा रहे थे नारे, अचानक होने लगा हमला
X
नॉर्वे की राजधानी ओस्लो में हिंसक झड़प को लेकर बड़ी खबर आ रही है। शनिवार को एक इस्लाम विरोधी रैली के चलते हिंसक लड़ाई हो गई। इसे हिंसक घटना की वजह से अधिकारी सतर्क हो गए और उन्होंने जल्द ही इस रैली को समाप्त कर दिया।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली। नॉर्वे की राजधानी ओस्लो में हिंसक झड़प को लेकर बड़ी खबर आ रही है। शनिवार को एक इस्लाम विरोधी रैली के चलते हिंसक लड़ाई हो गई। इसे हिंसक घटना की वजह से अधिकारी सतर्क हो गए और उन्होंने जल्द ही इस रैली को समाप्त कर दिया। इस रैली का आयोजन 'स्टॉप इसलामाइजेशन ऑफ नॉर्वे' (एसआईएएन) समूह नहीं संसद भवन के पास किया गया।

ये भी पढ़ें... पुल नदी में बहा: अचानक भरभरा कर नीचे आया, ऐसी तबाही देख हिल गए लोग

सैकड़ों प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे

सामने आई इस रिपोर्ट के मुताबिक, इस रैली के दौरान इसका विरोध करने वाले सैकड़ों प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे और उन्होंने ड्रम पीटते हुए नारेबाजी की। इस दौरान उन्होंने 'हमें अपनी सड़कों पर जातिवाद करने वाले नहीं चाहिए' जैसे नारे लगाए।

हालात उस समय बिगड़ गए, जब एक एसआईएएन समूह की महिला ने धार्मिक ग्रंथ के पेज फाड़ दिए। इस महिला पर पहले भी नफरत भरे भाषणों को लेकर कार्रवाई की जा चुकी है।

ये भी पढ़ें...ये नशेबाज एक्टर्स: खुद का करियर किया बर्बाद, कुछ तो अब हो गए गुमनाम

पेपर स्प्रे और आंसू गैस के गोले का उपयोग

ऐसे में महिला की इस हरकत के बाद इस रैली का विरोध कर रहे लोगों ने एसआईएएन सदस्यों पर अंडे फेंके और पुलिस की बैरिकेडिंग तोड़कर उनसे भिड़ गए। स्थानीय अधिकारियों ने इसके बाद हालात को स्थिर करने के लिए पेपर स्प्रे और आंसू गैस के गोले का उपयोग किया।

स्थानीय पुलिस ने इस घटना में 29 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इसमें कई महिलाएं और नाबालिग बच्चे भी शामिल हैं। इससे पहले स्वीडन के माल्मो में भी इसी तरह के विरोध प्रदर्शन हुए थे। जहां प्रदर्शनकारी पुलिस से भिड़ गए थे।

ये भी पढ़ें...साक्षी महाराज ने BJP नेता के खिलाफ छेड़ी जंग, कार्यवाही के लिए डीएम को लिखा पत्र

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story