कांप उठा पाकिस्तान: भारत का बस एक वार, बैठी हाई प्रोफाइल बैठक

पाकिस्तान मोदी सरकार  के इस फैसले से बौखलाया हुआ है और वह पूरी दुनिया में इस मुद्दे को उठाकर भारत को घेरने की कोशिश में लगा हुआ है। लेकिन उसकी ये कोशिश बिल्कुल भी कामयाब नहीं हो पा रही है । और पाकिस्तान की कहीं भी दाल गल नहीं रही है।

नई दिल्ली: भारत ने जब से जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल -370 को हटाकर एक केन्द्रशासित राज्य का दर्जा दिया है तब से भारत और पाकिस्तान के संबंध एक बार फिर तनावपूर्ण हो गए हैं। जिसको लेकर

पाकिस्तान मोदी सरकार  के इस फैसले से बौखलाया हुआ है और वह पूरी दुनिया में इस मुद्दे को उठाकर भारत को घेरने की कोशिश में लगा हुआ है। लेकिन उसकी ये कोशिश बिल्कुल भी कामयाब नहीं हो पा रही है । और पाकिस्तान की कहीं भी दाल गल नहीं रही है।

ये भी देखें : ऑटो इंडस्ट्री में मंदी की बड़ी मार, अब मारुति के 3 हजार कर्मचारियों की गई नौकरी

कश्मीर मुद्दे से दुनिया का ध्यान भटकाने के लिए भारत, पाकिस्तान पर हमला कर सकता है: आसिफ गफूर

कश्मीर के हालात पर शनिवार को पाकिस्तान के शीर्ष अधिकारियों ने बैठक की । इस बैठक के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और पाक सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की । आसिफ गफूर ने कहा कि ऐसा हो सकता है कि कश्मीर मुद्दे से दुनिया का ध्यान भटकाने के लिए भारत, पाकिस्तान पर हमला कर सकता है ।

गफूर ने कहा पाकिस्तान किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है । इसके अलावा उन्होंने कहा कि नियंत्रम रेखा पर अतिरिक्त सैनिक तैनात किए गए हैं । अचानक युद्ध की चेतवानी देते हुए गफूर ने कहा कि कश्मीर मुद्दा एक न्यूक्लियर फ्लैशपॉइंट है ।

ये भी देखें : कैसे परवान चढ़ी जाकिर नाइक की ज़िन्दगी, मलेशिया निकाल सकता है देश से

हमने कश्मीर मुद्दे को बहुत ऊपर तक उठाया है, जो कि एक बड़ी सफलता रही : शाह महमूद कुरैशी

वहीं पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि कश्मीर मुद्दे को वैश्विक स्तर पर लाने के लिए सभी दूतावासों में कश्मीरी नागरिकों को नियुक्त किया जाएगा । संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को लेकर उन्होंने कहा कि हमने कश्मीर मुद्दे को बहुत ऊपर तक उठाया है, जो कि एक बड़ी सफलता रही ।

उन्होंने कहा, “यूएनएससी में यह मामला पांच दशकों बाद उठाया गया और इस पर चर्चा हुई जो कि एक अच्छा कदम है । खासकर तब जब भारत ने इसे रोकने की पूरी कोशिश की । उन्होंने कहा कि बैठक में इस बात पर भी चर्चा हुई कि इसे किस तरह आगे बढ़ाया जाए ।