अमेरिका ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, कांपे इमरान खान, डरकर लिया ये बड़ा फैसला

सिंध प्रांत की सरकार ने हत्यारों को पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश का हवाला देते हुए नहीं रिहा करने का निर्णय लिया है। सिंध हाईकोर्ट ने गुरुवार को सुरक्षा एजेंसियों को आदेश दिया था कि शेख और अन्य आरोपियों को हिरासत में नहीं रखा जाए।

Published by Dharmendra kumar Published: December 27, 2020 | 9:32 pm
US vs Pakistan

अमेरिका ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, कांपे इमरान खान, डरकर लिया ये बड़ा फैसला (फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने पत्रकार डेनियल पर्ल के हत्यारों की रिहाई पर रोक लगा दी है। इमरान खान ने यह फैसला अमेरिका की चेतावनी के बाद लिया है। अमेरिकी की धमकी से डरे पाकिस्तान की सिंध प्रांत की सरकार ने अलकायदा आतंकी अहमद उमर सईद शेख और उसके तीन साथियों की रिहाई पर रोक लगा दी है। पाकिस्तानी कोर्ट के आदेश पर अमेरिका ने कड़ी चेतावनी दी थी और इसे चिंताजनक बताया था।

सिंध प्रांत की सरकार ने हत्यारों को पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश का हवाला देते हुए नहीं रिहा करने का निर्णय लिया है। सिंध हाईकोर्ट ने गुरुवार को सुरक्षा एजेंसियों को आदेश दिया था कि शेख और अन्य आरोपियों को हिरासत में नहीं रखा जाए। कोर्ट ने उनकी हिरासत पर सिंध सरकार की सभी अधिसूचनाओं को अमान्य बताया था। हाईकोर्ट ने कहा कि इन सभी को हिरासत में रखना अवैध है।

हाईकोर्ट ने कही ये बात

सरकार के फैसले के बाद सिंध हाईकोर्ट ने कहा कि अगर सुप्रीम कोर्ट ने उनकी हिरासत के बारे में रोक लगाने का आदेश दिया है, तो उनको रिहा नहीं किया जाना चाहिए। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाला से कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट के 28 सितंबर के आदेश के मुताबिक सरकार उनको रिहा नहीं करेगी।

danial

ये भी पढ़ें…धमाकों से बिछ रही लाशें: आम जनता से सुरक्षाकर्मी बने निशाना, सैंकड़ों मौतों से मातम

अमेरिका ने दी थी चेतावनी

पत्रकार डेनियल पर्ल के हत्यारों की रिहाई के फैसले के बाद अमेरिका ने कहा था कि हम डेनियल पर्ल के हत्यारे आतंकवादियों को रिहा करने के सिंध उच्च न्यायालय के 24 दिसंबर के आदेश से चिंतित हैं। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा कि हमें भरोसा दिया गया है कि दोषियों को इस समय रिहा नहीं किया गया है। अमेरिका इस मामले में किसी भी घटनाक्रम की निगरानी जारी रखेगा।

ये भी पढ़ें…चीन में मचा हाहाकार: बीच सड़क हमलावर ने किया ऐसा , 7 मौतों से अफरा तफरी

इसलिए हुई पत्रकार की हत्या

अमेरिकी अखबार वाल स्ट्रीट जर्नल के दक्षिण एशिया ब्यूरो प्रमुख पर्ल आतंकियों ने 2002 में अगवा कर लिया था। इसके बाद उनका सिर कलम कर हत्या कर दी गई। जब पर्ल की हत्या हुई उस समय पाकिस्तान में खुफिया एजेंसी आईएसआई और आतंकी संगठन अलकायदा के बीच संबंधों को लेकर वह खबर कर रहे थे।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App