बुरी तरह तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान के पीएम अब जाएंगे अमेरिका

इमरान खान 21 जुलाई रविवार को वाशिंगटन के लिए रवाना होंगे, जहां वह 22 जुलाई को व्हाइट हाउस में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे।

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पीएम इमरान खान अमेरिका के अपने पहले दौरे पर चार्टर्ड विमान का इस्तेमाल नहीं करेंगे बल्कि कमर्शियल फ्लाइट यानी वाणिज्यिक से जाएंगे। पीएम के विशेष सहायक नईम उल ने ट्विटर पर ऐलान किया कि खान कतर एअरवेज की उड़ान से अमेरिका जाएंगे। यह पहली बार होगा जब इमरान खान किसी आधिकारिक दौरे के लिए कॉमर्शियल प्लेन का इस्तेमाल करेंगे। इससे पहले यूएई और मलेशिया के दौरों पर वे निजी विमान से गए थे।

यह भी पढ़ें:20वें कारगिल विजय दिवस पर शहीदों के बलिदान की गाथा आज से सुनाई जाएगी

इमरान खान 21 जुलाई रविवार को वाशिंगटन के लिए रवाना होंगे

इमरान खान 21 जुलाई रविवार को वाशिंगटन के लिए रवाना होंगे, जहां वह 22 जुलाई को व्हाइट हाउस में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे।

आपको बता दें कि इससे पहले खबर आई थी कि इमरान खान अपने अमेरिकी दौरे के दौरान वाशिंगटन के किसी मंहगे होटल में रुकने के बजाय अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत के आधिकारिक दूतावास में ही रहेंगे।

यह भी पढ़ें:पैसे का लालच देकर 8 साल के मासूम के साथ खेतों में किया दुष्कर्म

पीएम इमरान खान का तीन दिवसीय यात्रा

पीएम इमरान खान का तीन दिवसीय यात्रा के दौरान अमेरिकी कांग्रेस के प्रमुख नेताओं, कॉरपोरेट नेताओं तथा पाकिस्तानी समुदाय के लोगों से मिलने का भी कार्यक्रम है। गौरतलब है कि पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था काफी खराब हालत में चल रही है। सत्ता में आने के बाद इमरान खान ने फिजूलखर्ची रोकने का संकल्प लिया था।

एक रिपोर्ट के अनुसार, जहां राजदूत असद मजीद खान के आवास पर रुकने से यात्रा पर होने वाले खर्च को कम किया जा सकता है। हालांकि न तो अमेरिकी खुफिया सेवा और न ही शहर के प्रशासन को यह विचार उचित लगा। अमेरिकी खुफिया सेवा अमेरिका में आते ही किसी अतिथि की सुरक्षा का जिम्मा ले लेती है, वहीं शहर प्रशासन को यह सुनिश्चित करना है कि इस दौरे से वाशिंगटन का परिवहन प्रभावित ना हो। वाशिंगटन में प्रतिवर्ष सैकड़ों राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री दौरा करते हैं और अमेरिका की संघीय सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए शहर प्रशासन के साथ मिलकर काम करती है कि किसी अतिथि के दौरे से शहर के लोगों का सामान्य जीवन प्रभावित ना हो।

यह भी पढ़ें:कारगिल विजय दिवस आज, राजनाथ सिंह युद्ध स्मारक पर नायकों को देंगे श्रद्धाजंलि

पाकिस्तान के राजदूत का आवास वाशिंगटन के डिप्लोमेटिक एन्क्लेव के मध्य में स्थित है, जहां भारत, तुर्की और जापान समेत कम से कम एक दर्जन देशों के दूतावास बने हैं। एक रिपोर्ट ने बताया कि अतिथि राष्ट्राध्यक्ष वाशिंगटन में रुकने पर अमेरिका के अधिकारियों, नेताओं, मीडियाकर्मियों और विशेषज्ञ प्रतिनिधियों से कई बैठकें करते हैं।