यहां रमजान में लालटेन है जरूरी, जानिए कहां कैसे होती है रोजे की शुरुआत

रमजान को मुसलमान संप्रदाय के लिए पवित्र महीना माना जाता हैं और इसकी शुरुआत के साथ ही मुस्लिम सम्प्रदाय के लोग रोजे रखना शुरु कर देते हैं।रमजान का महीना भी हर जगह विशेष आयोजन के साथ मनाया जाता हैं।

Published by suman Published: May 5, 2019 | 6:42 am

जयपुर: रमजान को मुसलमान संप्रदाय के लिए पवित्र महीना माना जाता हैं और इसकी शुरुआत के साथ ही मुस्लिम सम्प्रदाय के लोग रोजे रखना शुरु कर देते हैं।रमजान का महीना भी हर जगह विशेष आयोजन के साथ मनाया जाता हैं। जैसे भारत में रमजान की शुरुआत होती है। वैसे ह पूरी दुनिया में नहीं होती। अलग अलग देशों में रमजान मनाने का तरीका अलग है।।

बाल्कन देश बोस्निया की राजधानी सारायेवो में स्थानीय परंपरा के मुताबिक इफ्तार के समय यानी रोजा खोलने के वक्त तोप चलायी जाती है।

ट्यूनीशिया  के कुछ लोग दूरबीन से चांद हैं। कई जगह खुली आंख से भी चांद देखने की परंपरा है। इसीलिए विभिन्न देशों में रमजान भी अलग अलग तारीख पर शुरू होता है। 

भीषण गर्मी में पड़ा है रमजान, सेहरी-इफ्तार में रखें ऐसे सेहत का ध्यान

मिस्र में रमजान के दौरान खास लालटेन जलाना जरूरी माना जाता है। इसलिए रोजे शुरू होते ही शहरों में ऐसी लालटेनों की भरमार हो जाती है।

पाकिस्तान रमजान शुरू होते ही पाकिस्तान के बाजारों में हर तरफ खजूर, पकौड़े और समोसे दिखाई पड़ते हैं।

अल्जीरिया  में रोजे रखने वाले लोगों में शहद और मिठाई खास तौर से लोकप्रिय हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App