Top

4 बड़ें आतंकी रिहा: आ रही अब तक की सबसे बड़ी खबर, छूट गए ये खूंखार

सिंध हाई कोर्ट ने अपने आदेश यह साफ कह दिया है कि ये बिना किसी जुर्म के जेल में बंद हैं। इन्हें तुरंत रिहा किया जाए और इनका नाम नो फ्लाई लिस्ट में रखा जाए ताकि ये देश छोड़कर भाग न पाएं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 24 Dec 2020 11:35 AM GMT

4 बड़ें आतंकी रिहा: आ रही अब तक की सबसे बड़ी खबर, छूट गए ये खूंखार
X
4 बड़ें आतंकी रिहा: आ रही अब तक की सबसे बड़ी खबर, छूट गए ये खूंखार
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कराची: पाकिस्तान के सिंध हाई कोर्ट ने अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल के हत्यारे को जेल से रिहा करने का आदेश दे दिया है। जी हां, अमेरिकी पत्रकार के हत्यारे पाकिस्तानी आतंकी उमर शेख, फहाद नसीम, सईद सलमान साकिब और शेख मोहम्मद आदिल को जेल से रिहा करने का आदेश दिया है।आपको बता दें कि कंधार प्लेन हाईजैक के बाद भारत से छूटे गए 3 आतंकियों में से एक नाम उमर का भी है, जिसे पाकिस्तानी कोर्ट ने रिहा करने का फैसला सुनाया है।

चारों आतंकियों को जेल में रखना गैरकानूनी है- कोर्ट

मिली जानकारी के अनुसार, सिंध हाई कोर्ट ने पत्रकार डेनियल पर्ल की हत्या की सुनवाई करते हुए कहा कि इन चारों आतंकियों को जेल में रखना गैरकानूनी है। अदालत ने 2 अप्रैल 2020 को सुनवाई करते हुए शेख, साकिब और नसीम रिहा को करने का आदेश दे दिया था। शेख की मौत की सजा को अदालत ने 7 साल की कारावास में बदलते हुए 20 लाख पाकिस्तान रुपए का जुर्माना लगा दिया था। शेख 18 साल जेल में गुजार चुका है इसलिए उसकी सात साल जेल की सजा पूरी हो गई है।

ये भी देखें: खूबसूरती का खजाना: दर्दनाक हादसे में पूर्व मिस वर्ल्ड की मौत, पूरी दुनिया ने शोक

ये बिना किसी जुर्म के जेल में बंद हैं- कोर्ट

सिंध हाई कोर्ट ने अपने आदेश यह साफ कह दिया है कि ये बिना किसी जुर्म के जेल में बंद हैं। इन्हें तुरंत रिहा किया जाए और इनका नाम नो फ्लाई लिस्ट में रखा जाए ताकि ये देश छोड़कर भाग न पाएं। हालांकि कोर्ट के आदेश बावजूद पाकिस्तान की सरकार ने आतंकी उमर को आतंकवाद निरोधक कानून के तहत हिरासत में रखा है।

Sindh High Court

फैसले के बाद पाक कोर्ट की हो रही है थू-थू

आपको बताते चलें कि कोर्ट के इस फैसले से पाकिस्तानी कोर्ट की थू-थू हो रही है। पाकिस्तान के नेशनल प्रेस क्लब ने कोर्ट को पुनः विचार करने का आग्रह की है। वहीं, दूसरी ओर पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी भी इस फैसले पर हैरानी जताते हुए कहा है कि पत्रकार डेनियल पर्ल ‘द वॉल स्ट्रीट जर्नल’ के साउथ एशिया ब्यूरो चीफ थे। 2002 में उनका अपहरण कर आतंकियों ने उनका सिर कलम कर दिया था।

ये भी देखें: आसमान से धरती पर गिरा आग का विशाल गोला, तेज धमाके से कांप उठे लोग

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story